गोड्डा में भक्ति की शक्ति: भक्त ने अपने सीने पर स्थापित किया कलश

गोड्डा/झारखंड:  भक्ति की कोई सीमा नहीं होती और भक्त का भगवान पर विश्वास को मापने का कोई पैमाना भी नहीं है। क्योंकि भक्ति की शक्ति जब भक्त पर मेहरबान होती है तो असंभव सा दिखने वाला काम भी संभव होने लगता है। ऐसा ही कुछ हुआ है इन दिनों गोड्डा जिला मुख्यालय से कुछ किलोमीटर की दूरी पर।

शारदीय नवरात्र के मौके पर पथरगामा बड़ी दुर्गा मंदिर में एक भक्त ने अपने सीने पर ही कलश स्थापित कर लिया। शक्ति की देवी दुर्गा में इस भक्त की श्रद्धा इस कदर है कि अगले 10 दिनों तक मां दुर्गा का ये भक्त इसी अवस्था में लेटा रहेगा।

विनय भगत ने लगातार दूसरे वर्ष अपने सीने पर कलश स्थापित किया है। पथरगामा के सोनारचक मोड़ के पास रहनेवाले विनय भगत का मानना है कि ऐसा करने की शक्ति उन्हें मां दुर्गा देती हैं। ऐसा करने की प्रेरणा उन्हें मां दुर्गा से ही मिली और वही ऐसी शक्ति देती हैं।

Loading...

Leave a Reply