गोड्डा: सावन के आखिरी सोमवार को मंदिर में उमड़े श्रद्धालु

गोड्डा/झारखंड:  सावन महीने के आखिरी सोमवार को बम बम भोले के जयकारे से बाबा रत्नेश्वर धाम मंदिर गूंज उठा। चुंकी ऐसा सोमवार अब सालभर बाद ही आएगा इसलिए सुबह से ही मंदिर में भक्तों की भारी भीड़ देखी जा रही थी। आखिरी सोमवार को अनुमान के मुताबिक तकरीबन 700 से ज्यादा डाक बंम कांवरियों ने बाबा पर जल अर्पण किया। दूसरी तरफ इस मौके पर मंदिर में पूजा करनेवालों की भी लंबी कतार सुबह से ही देखी जा रही थी।

बाबा रत्नेश्वर के दरबार में सुल्तानगंज से जल लेकर चलने वाले डाकबंम 105 किलोमीटर का सफर तय कर बाबा के मंदिर में पहुंचते हैं। ये शिव का चमत्कार ही है जिसकी वजह से इस सफर को वो शारीरिक तकलीफ के बाद भी हंसते हंसते पूरा करते हैं। सभी के मन में एक ही बात चल रही होती है कि शरीर में होनेवाला कष्ट उनकी भक्ति की परीक्षा है। और इस परीक्षा पास होने के बाद ही शिव के दर्शन होंगे। जहां पर उनकी मनोकामना भी पूर्ण होगी।

इसी संकल्प के साथ कांवरिया सुल्तानगंज से गंगाजल लेकर चले आते हैं बाबा रत्नेश्वर के दरबार में जलाभिषेक करने। भोलेनाथ पर जल अर्पण करने के बाद बम बम के उद्घोष के साथ अपने घर की तरफ रवाना हुए। इस मौके पर होम्योपैथी कॉलेज परसपानी और गायत्री परिवार के सदस्यों के द्वारा सेवा और प्राथमिक चिकित्सा उपलब्ध करवाया गया।

(Visited 67 times, 1 visits today)
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *