गोड्डा: अजीत वाडेकर के निधन पर शोकसभा का आयोजन

गोड्डा/झारखंड:पूर्व भारतीय क्रिकेट कप्तान, चयनकर्ता, विदेशी धरती पर पहली जीत दर्ज करने वाली भारतीय टीम के कप्तान एवं देश मे दिव्यांग क्रिकेट के जनक पद्मश्री अजित वाडेकर साहेब के निधन पर गुरुवार को झारखंड राज्य दिव्यांग क्रिकेट संघ ने शोक सभा के माध्यम से भावभिनी श्रद्धांजलि अर्पित की।

मौके पर उपस्थित संघ के कार्यकारी अध्यक्ष सुरजीत झा ने क्रिकेट एवं दिव्यांग क्रिकेट में स्व. वाडेकर के योगदान को रेखांकित करते हुए कहा कि इंग्लैंड की धरती पर इंग्लैंड को 1-0 से पराजित कर दुनिया में देश की धाक जमाने वाले वाडेकर साहेब ने ना सिर्फ दिव्यांग क्रिकेट को जन्म दिया बल्कि क्रिकेट एसोसिएशन फ़ॉर फिज़िकली चैलेंज्ड के पद पर रहते हुए उन्होंने इसे बी.सी.सी.आई. से मान्यता दिलाने के सारे मार्ग प्रशस्त कर लिए थे।

उनका निधन विश्व क्रिकेट की अपूर्णनीय क्षति है। 77 वर्षीय श्री वाडेकर का निधन बुधवार को मुम्बई के जसलोक अस्पताल में हृदयाघात से हो गया। बताया कि झारखण्ड राज्य दिव्यांग क्रिकेट संघ के महासचिव मनीष सिंह उनके बेहद प्रिय थे।

सभा में संघ के पदाधिकारियों में कोषाध्यक्ष मनोज कुमार पप्पु, धनन्जय त्रिवेदी, अमित राय, संजीव झा, सौरभ परासर, सत्यकाम राहुल, शुभम कुमार भगत,  गोड्डा जिला सचिव शिवेंद्र झा, मो. इस्लाम, दयाशंकर, अश्विनी कुमार व राजा हिंदुस्तानी के अलावा खिलाड़ियों में भोला पासवान, राजेन्द्र प्रसाद, राघव मिश्रा, मुकेश कोतवाल एवं अमरेंद्र सिंह बिट्टु उपस्थित थे। अंत मे वाडेकर साहेब को दो मिनट की मौन श्रद्धांजिल दी गयी।

Loading...