गोड्डा: गंगटा व पटवा मौजा के ज्यादातर रैयतों ने मुआवजा भुगतान की प्रक्रिया की पूरी

गोड्डा/झारखंड:  अडाणी के प्रस्तावित पावर प्लांट के लिए चल रही भूमि अधिग्रहण प्रक्रिया एक और कदम आगे बढ़ गई है। गंगटा व पटवा मौजा के ज्यादातर रैयतों ने मुआवजा लेने की कागजी प्रक्रिया पूरी कर ली है। गंगटा मौजा के 97 प्रतिशत से ज्यादा व पटवा मौजा के 90 प्रतिशत से ज्यादा रैयतों ने सिकटिया आईटीआई में प्रशासन द्वारा लगाए गए विशेष शिविर में आकर कागजी प्रक्रिया पूरी की। मुआवजा राशि रैयतों के खाते में सीधी भेजी जा रही है।

गंगटा मौजा की 171.48 एकड़ व पटवा मौजा की 4.31 एकड़ जमीन अधिग्रहित की जानी है। इससे पहले मोतिया मौजा की 174.84एकड़ जमीन पहले ही कंपनी को हस्तांतरित की जा चुकी है। पटवा मौजा के लिए यह प्रक्रिया 31 मार्च को शुरू हुई थी,जबकि गंगटा मौजा के लिए यह प्रक्रिया 21 मार्च को शुरू हुई थी। बुधवार को इस विशेष शिविर का आखिरी दिन था।

सदर प्रखंड के अंदर आने वाले इन तीनों मौजा के रैयतों की बात करें तो अब तक कुल 950 से ज्यादा रैयतों ने मुआवजा ले लिया है या कागजी प्रक्रिया पूरी कर ली है। गोड्डा जिला के पहले पावर प्लांट लगने की दिशा में इसे एक अहम कदम माना जा रहा है। इस प्रक्रिया के साथ ही पावर प्लांट के लिए सदर प्रखंड की भूमि अधिग्रहण व मुआवजा वितरण प्रक्रिया लगभग पूरी हो गई है।

पटवा के रैयत जयकिशोर साह, कौशल किशोर साह, आशुतोष कुमार, अरुण कुमार व मोतिया के ग्रामीण हेमंत यादव ने कहा कि इस बात की खुशी है कि ग्रामीणों का सपना पूरा होता दिख रहा है और जल्द ही हमारा क्षेत्र विश्व मानचित्र पर होगा। ये पूरे गोड्डा के लिए गर्व की बात है।

Loading...