गोड्डा: अडाणी सक्षम प्रशिक्षण केंद्र की 59 महिलाओं को मिले सर्टिफिकेट

गोड्डा/झारखंड: सदर प्रखंड के डुमरिया में अडाणी स्किल डेवलपमेंट सेंटर द्वारा संचालित सक्षम प्रशिक्षण केंद्र की 59 महिलाओं को सफल प्रशिक्षण के बाद बुधवार देर शाम आयोजित दीक्षांत समारोह मेें सर्टिफिकेट प्रदान किए गए। इससे पहले मोतिया, रंगनिया, सोनडीहा समेत लगभग एक दर्जन गांवों में संचालित सक्षम सिलाई प्रशिक्षण केंद्र में प्रशिक्षण ले रहीं 250 से ज्यादा महिलाओं को स्किल इंडिया कार्यक्रम के तहत केंद्रीय कौशल विकास मंत्रालय एवं एएसडीसी के संयुक्त तत्वावधान में सर्टिफिकेट जारी किए जा चुके हैं।

फाउंडेशन के मुताबिक जल्द ही लगभग 150 और महिलाओं को भी सर्टिफिकेट जारी कर दिए जाएंगे। डुमरिया में आयोजित दीक्षांत समारोह में बतौर मुख्य अतिथि मौजूद पूर्व जिला परिषद सदस्य रामारमण झा उर्फ मुनचुन झा ने कहा कि इस इलाके में अभी अडाणी पावर प्लांट लगा भी नहीं है और विकास की झलक दिखाई पड़ने लगी है और आशा है कि कंपनी अपने सामाजिक दायित्वों की पूर्ति आगे भी और बेहतर तरीके से करती रहेगी।

उन्होंने कहा कि हमारी ओर से भी कोशिश होगी कि इन प्रशिक्षित महिलाओं को सरकारी स्कूल के विद्यार्थियों की ड्रेस बनाने का ऑर्डर मिल पाए। इस दौरान प्रशिक्षु सोनाली कुमारी, पिंकू देवी, अदिति कुमारी, कनकलता झा आदि ने अपने अनुभव साझा किए और कहा कि गांव में रह कर प्रशिक्षण मिल पाएगा ये सोच से भी परे था। उन्होंने बताया कि डुमरिया गांव के अलावा आसपास के कई गांवों की महिलाएं व युवतियां यहां प्रशिक्षण प्राप्त करने आती हैं। प्रशिक्षिका विनीता देवी ने बताया कि पड़ोस में बिहार के पंजवारा तक से महिलाएं यहां प्रशिक्षण लेने आ रही हैं।

कार्यक्रम में मौजूद डुमरिया निवासी रंजीत पाठक ने भी अपनी बात रखी व कहा कि अडाणी फाउंडेशन ने कौशल विकास के क्षेत्र में कम समय में ही उल्लेखनीय कार्य किए हैं, जिससे महिलाएं आत्मनिर्भर बन रही हैं। आनंद वत्स ने कहा कि कुछ युवतियां अपनी पढ़ाई का खर्च भी खुद उठाने में सक्षम हो गई हैं और इस कार्यक्रम का नाम सक्षम रखना आज सार्थक हो गया है। फाउंडेशन की तरफ से जानकारी दी गई कि प्रशिक्षित महिलाओं को सक्षम उद्यमिता केंद्र से जोड़ा गया है, जिससे जुड़कर महिलाएं आत्मनिर्भर बन रही हैं। बताया गया कि सक्षम सिलाई प्रशिक्षण केंद्र के अलावा सदर प्रखंड के मोतिया में व पोड़ैयाहाट प्रखंड के रंगनिया व बसंतपुर गांव में भी सक्षम कंप्यूटर प्रशिक्षण केंद्र भी संचालित किए जा रहे हैं।

इन केंद्रों में ग्रामीण बच्चों को निःशुल्क कंप्यूटर प्रशिक्षण प्रदान किया जाता है। प्रशिक्षण पूर्ण होने पर बच्चों को कौशल विकास मंत्रालय द्वारा मान्यताप्राप्त सर्टिफिकेट दिए जाते हैं। कार्यक्रम के दौरान रेखा गुप्ता, शालिनी गुप्ता, चंदा कुमारी, कोमल कुमारी, शीलू कुमारी, नीशू कुमारी, ज्योति कुमारी, अमलेंदु शेखर झा, उमाकांत ठाकुर आदि ग्रामीण भी मौजूद रहे व सक्षम कार्यक्रम की तारीफ की।

Loading...