‘चरणामृत‘ पर फंसे सांसद निशिकांत दूबे, दुमका में दिखाया काला झंडा, Video

दुमका/झारखंड:  गोड्डा के कनभारा में बीजेपी कार्यकर्ता की तरफ से सांसद निशिकांत दूबे के चरण धोने और पैर धोने के बाद उस पानी को पीने के बाद से विरोध का जो सिलसिला शुरु हुआ है वो दो दिन बाद भी नहीं थमा है। विरोध की बयानबाजी के बाद अब विपक्ष को लोग सड़कों पर उतर रहे हैं।

दुमका में गोड्डा के सांसद निशिकांत दूबे को कांग्रेस की महिला इकाई की तरफ से काला झंडा दिखाया गया। इस विरोध की अगुवाई कांग्रेस की महिला इकाई की प्रदेश उपाध्यक्ष अरबी खातुन की तरफ से किया गया।

दुमका पहुंचे सांसद निशितांद दूबे को परिसदन के मुख्य द्वार पर विरोध का सामना करना पड़ा। यहां उन्हें कांग्रेस की महिला इकाई की तरफ से काला झंडा दिखाया गया। महिला इकाई की उपाध्यक्ष अरबी खातुन ने कहा सांसद निशिकांत दूबे अपने को आम जन से ऊपर देवता तुल्य मसीहा समझते हैं ये अपने को जनता का सेवक नहीं समझ जनता को अपना सेवक, दास समझते हैं। सार्वजनिक मंच पे अपने पैर को धुलवा कर पिया जाना एक आपराधिक मामला है। सरकार इनके खिलाफ सख्त कानूनी कार्यवाही करे।

इसे भी पढ़ें

गोड्डा से दिल्ली तक चरणामृत की चर्चा, सांसद की सफाई के बाद भी विवाद जारी, Video

(Visited 16 times, 1 visits today)
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *