धनबाद: कोयला के वर्चस्व की लड़ाई में बम-गोली की आवाज से थर्राया कतरास, Video

धनबाद/झारखंड:  कतरास में बाघमारा के आकाशकिनारी में कोयले को लेकर चल रही वर्चस्व की लड़ाई में बीजेपी विधायक ढुलू महतो और उनके समर्थकों का उत्पाद दिन भर चलता रहा। हालात ये हो गए कि बम और गोलियों की आवाज से पूरा इलाका थर्रा उठा। दोनों तरफ से हुए इस मारपीट में विधायक समर्थक धर्मेंद्र गुप्ता को दाहिने पैर में गोली लग गई।

दिन दहाड़े इस गोलीबारी और बमबाजी को कवर करने गए पत्रकारों को भी नहीं विधायक समर्थकों ने नहीं छोड़ा। पत्रकार ओमप्रकाश उर्फ दीपक झा जब आकाशकिनारी कांटा घर की तस्वीर ले रहे थे तभी उनपर विधायक ढुलु महतो समर्थकों ने हमला कर दिया। जिसमें वो गंभीर रूप से घायल हो गए। उनका इलाज बीसीसीएल के तिलाटाड अस्पताल में चल रहा है।

यही नहीं कई और भी पत्रकारों को चोट आई है। हालात इस कदर तनावपूर्ण हो गए कि प्रशासन ने इलाके में धारा 144 लगा दी है। आरोप ये भी है कि जिस वक्त विधायक के गुंडों ने पत्रकारों और दूसरे पक्ष पर हमला किया तब वहां मौजूद पुलिस और सीआईएसएप के जवान मूक दर्शक बने रहे।

विधायक समर्थकों ने कोयला उठाने आए सुभाष राय के ट्रक में भी तोड़फोड़ की। ट्रक के ड्राइवर और खलासी पर भी जानलेवा हमला किया गया।

बाद में हालात हाथ से निकलता देख कतरास डीएसपी सीओ थाना प्रभारी के नेतृत्व में विधायक समर्थकों को खदेड़ा। उत्पात मचा रहे विधायक के गुंडों को काबू में करने के लिए पुलिस को बल प्रयोग भी करना पड़ा। विधायक की तरफ से इस सब की तैयारी पहले से की गई थी। क्योंकि पुलिस ने मौके से विधायक समर्थकों के कई मोटरसाइकिल भी जब्त किये हैं।

फिलहाल इलाके में धारा 144 लगा दी गई है। बाघमारा के डीएसपी ब्राह्मण टूटी ने कहा कि हिंसा करनेवालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। खबर है कि भाजयुमो मंडल अध्यक्ष को गोली लगी है। प्रशासन की तरफ से धारा 144 लगाई गई है लेकिन इलाके में हालात तनावपूर्ण हैं।

जो हंगामा कतरास में आज हुआ उसकी आहट की दिनों से सुनी जा रही थी। आज सुबह ही जेएमएम नेता अजमूल अंसारी ने आरोप लगाया कि विधायक ढुलु महतो के समर्थकों ने उनपर हमला किया। अजमूल अंसारी ने बताया कि उनपर हमला विधायक समर्थक निपु सिंह के द्वारा करवाया गया है। जेएमएम नेता के साथ बरोरा थाना के बेहरकुदर के पास मारपीट की गई।

कतरास में कोयला उठाव में वर्चस्व की इस लड़ाई में एक तरफ संयुक्त मोर्चा है और दूसरी तरफ विधायक समर्थक। गुरुवार के लिए जिला परिषद सदस्य सुभाष राय के भाई को कोयला आवंटन मिला है। जिसके बाद एक तरफ डीओ धारक, सरदार, मजदूरों ने बुधवार को ही साफ कर दिया था कि सुभाष राय के भाई का ट्रक लोड नहीं करेंगे। जबकि सुभाष राय ने धनबाद एसएसपी, डीसी, एसडीएम से मिलकर पूरी जानकारी दी थी। जिसके बाद ये भरोसा दिया गया था कि प्रशासन की तरफ से पूरे पुख्ता इंतजाम किये जाएंगे। इसे लेकर कतरास पुलिस को भी निर्देश दिया जा चुका था। लेकिन गुरुवार को जब हालात बिगड़े तो पुलिस के लिए उसे संभालना भारी पड़ गया।

बताया जाता है कि कतरास के किसी भी कोयला खदान में विधायक ढुलु महतो की तूती बोलती है। किसी भी खदान से कोयला उठाने के बदले विधायक को चढ़ावा देना होता है। जिसमें 60 फीसदी विधायक का होता है और बाकी बचा 40 फीसदी उसका जो कोयला उठाना चाहता है।

 

Loading...