lalu-prasad-yadav-and-nitish-kumar

JDU नेता के इस ट्वीट ने नीतीश सरकार में मचा दी खलबली, अब क्या करेंगे नीतीश

JDU नेता के इस ट्वीट ने नीतीश सरकार में मचा दी खलबली, अब क्या करेंगे नीतीश

पटना/बिहार: बिहार के सीएम नीतीश कुमार जाने तो जाते हैं अपने सुशासन की वजह से। लेकिन लालू के साथ गठबंधन करने के बाद उनका सुशासन सवालों में घिर गया। हाल के दिनों में लालू यादव और कांग्रेस से नीतीश की नाराजगी भी चर्चा में रही। लेकिन इसबार उनके ही एक नेता ने कुछ ऐसा कर दिया कि नीतीश कुमार की पूरी सरकार और महागठबंधन सवालों में घिर गया।

जेडीयू नेता अजय आलोक ने एक ट्वीट किया जिसने सरकार से लेकर महागठबंधन तक खलबली मचा दी। पार्टी को उसपर सफाई देने सामने आना पड़ा। जेडीयू नेता अजय आलोक ने ट्वीट में लिखा ‘182 प्रोजेक्ट पर एक पैसा खर्च नहीं हुआ और 11 हजार करोड़ बिना इस्तेमाल किये लैप्स हो गया। इनमें से अधिकांश विभाग कांग्रेस और आरजेडी के पास हैं। पर जिम्मेदारी हमारी है।‘

ajay-alok-tweetअजय आलोक के इस ट्वीट ने महागठबंधन में तनाव बढ़ने के संकेत दिये हैं। इस ट्वीट पर सफाई देने जेडीयू के सीनियर नेता के सी त्यागी सामने आए उन्होंने कहा अजय आलोक अब जेडीयू प्रवक्ता नहीं हैं और उन्हें पार्टी ने इस पद से हटा दिया है। त्यागी ने महागठबंधन में किसी तरह के विवाद से भी इनकार किया।

महागठबंधन में दरार की बात इसलिए भी कही जा रही है क्योंकि कुछ दिनों पहले बिहार दिवस के मौके पर आयोजित खास कार्यक्रम में लालू के परिवार का कोई भी सदस्य शामिल नहीं हुआ था। हलांकि दोनों की तरफ से दोनों दलों के नेताओं ने इसे छोटी बात करार दिया। लेकिन लगातार महागठबंधन पर उठ रहे सवाल ये बताते हैं कि सबकुछ ठीक नहीं है।

महागठबंधन में जहां एक तरफ नीतीश की लालू और कांग्रेस से नाराजगी की खबर आती रही है वहीं बीजेपी से करीबी भी चर्चा में रही है। लेकिन बजट सत्र की समाप्ति के बाद आयोजित दावत में शामिल होने पर बीजेपी में भी मतभेद दिखा। एक तरफ जहां बीजेपी का एक धड़ा सुशील मोदी की अगुवाई में सीएम नीतीश कुमार की दावत में शामिल हुआ वहीं प्रेम कुमार की अगुवाई वाले गुट ने इस दावत से दूरी बनाकर रखी। दरअसल प्रेम कुमार के गुट का मानना है कि नीतीश कुमार बीजेपी से अपनी करीबी दिखाकर राज्य में पार्टी को कमजोर करने की कोशिश कर रहे हैं।

Loading...

Leave a Reply