दुनिया सो रही थी और ISRO ने रात में ही अंतरिक्ष में लहरा दिया तिरंगा

नई दिल्ली:  ISRO  एक बार फिर अंतरिक्ष भारत का नाम रौशन किया है। इसबार ISRO ने ये कामायाबी उस वक्त हासिल की जब दुनिया सो रही थी। रात के दो बजकर 29 मिनट पर ISRO ने GSAT-17 का सफल प्रक्षेपण किया। इस उपग्रह के जरिये मौसम की सटीक जानकारी मिल सकेगी।

इसरो ने इस संचार उपग्रह का प्रक्षेपण कोरू के फ्रेंट गुयाना प्रक्षेपण केंद्र से लॉन्च किया। GSAT-17 अत्याधुनिक संचार उपग्रह है। जिसके जरिये मौसम की काफी सटीक जानकारी मिल सकेगी। इसके अलावे प्राकृतिक आपदा की स्थिति में राहत और बचाव कार्य के बारे में भी इस उपग्रह से जानाकारी हासिल की जा सकेगी।

इस महीने में ISRO ने ये तीसरी बार उपग्रह का सफल प्रक्षेपण किया है। GSAT-17 का वजन तकरीबन 3477 किलोग्राम है।

Loading...