NSG में भारत की सदस्यता जरुरी, जापान ने चीन को लताड़ा

दिल्ली: भारत के परमाणु आपूर्तिकर्ता समूह यानि NSG का सदस्य बनने में चीन भले ही चालबाजी कर दी हो लेकिन जापान ने खुले तौर पर भारत के NSG सदस्यता का समर्थन किया है। सोल की बैठक में चीन ने ही भारत की सदस्यता रोकने में विलेन की भूमिका निभाई थी। लेकिन जापान ने चीन को करारा जवाब दिया है। जापान ने कहा है कि NSG में भारत की मौजूदगी से परमाणु अप्रसार को बढ़ावा देने में मदद मिलेगी।

सोल बैठक के बाद पहली बार NSG में भारत की सदस्यता पर आधिकारिक टिप्पणी की गई है। जापानी अधिकारियों ने अंग्रेजी अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया से बातचीत में कहा ‘हम NSG सदस्यता को संभव बनाने के लिए भारत के साथ लगातार काम कर रहे हैं।‘

जापानी विदेश मंत्रालय के बड़े अधिकारी यासुकिरा कावमोरा ने कहा ‘हम इस मुद्दे पर भारत के साथ काम करते रहना चाहते हैं। क्योंकि हमें लगता है कि भारत की सदस्यता से परमाणु अप्रसार व्यवस्था को ताकत मिलेगी। जापान NSG के दूसरे सदस्य देशों के साथ इस मुद्दे पर लगातार बातचीत करता रहेगा। NSG में भारत की एंट्री के लिए मुख्य मुद्दा आम राय बनाने को सुनिश्चित करना है और हम इसपर काम कर रहे हैं।‘

Loading...