नेपाल में भी 500 और 1000 के भारतीय नोट बंद

नई दिल्ली: भारत सरकार ने जब 500 और 1000 रुपये के नोटों को बंद कर दिया तो उस फैसले का असर नेपाल भी पहुंचा। नेपाल के बैंकों ने इन दोनों मुद्राओं के अमान्य होने के बाद 3.5 करोड़ रुपये के 500 और 1000 रुपये के नोट को जारी करने से रोक दिया है।

नेपाल राष्ट्र बैंक के प्रवक्ता नारायण पोडेल ने कहा हमारे द्वारा लाइसेंस प्राप्त बैंकिंग संस्थाओं ने जानाकारी दी है कि गुरुवार को 3.5 करोड़ रुपये की प्रतिबंधित 500 और 1000 रुपये के नोट को रोक लिया है। उन्होंने कहा दूसरे बैंकों से पूरी डिटेल आने के बाद ये राशि चार करोड़ रुपये तक हो सकती है।

नेपाल की समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक नेपाल के केंद्रीय बैंक का मानना है कि भारत की सीमा से सटे इलाकों में रहनेवाले लोगों और व्यापारियों के साथ ही भारत से पहुंचे नेपाली प्रवासी मजदूरों के पास बड़ी मात्रा में प्रतिबंधित भारतीय मुद्रा हो सकती है। उनका कहना था कि हलांकि उनके पास इस बारे में कोई पुख्ता आंकड़ा नहीं है।

नेपाल में काफी वक्त से 100 रुपये के भारतीय मुद्रा का इस्तेमाल होता रहा है। लेकिन पिछले साल नेपाल के आग्रह पर 500 और 1000 रुपये को नेट के इस्तेमाल की इजाजत भी दी गई थी। नेपाल से लौटने वाले नेपाली प्रवासी और भारतीय नागरिकों को 25,000 रुपये तक की राशि अपने साथ लाने की इजाजत है।

नेपाल में जिनलोगों के पास प्रतिबंधित भारतीय मुद्रा है उसकी बदली कैसे होगी इस बारे में नेपाल राष्ट्र बैंक के विदेशी मुद्रा प्रबंधन विभाग के निदेशक का कहना था कि नेपाल में मौजूद भारतीय मुद्रा को बदलने के लिए आरबीआई को चिट्ठी लिखी गई है। इस मुद्दे को भारत के साथ कूटनीतिक तौर पर सुलझाने के लिए नेपाल के वित्त मंत्री को भी चिट्ठी लिखी गई है।

Loading...

Leave a Reply