पाकिस्तान सीमा के करीब वायुसेना ने दिखाई ‘वायु शक्ति’ 137 लड़ाकू विमान ने की बमबारी, Video

नई दिल्ली:  पुलवामा हमले के बाद वायुसेना ने पाकिस्तान तक अपनी तैयारी का संदेशा पहुंचा दिया है। वायुसेना ने पोखरण में सबसे बड़ा युद्धाभ्यास वायु शक्ति का प्रदर्शन किया है। इस युद्धाभ्यास में वायुसेना के पायलटों ने दुश्मनों के ठिकानों को नेस्तनाबूद करने का प्रदर्शन किया। जितनी बड़ी मात्रा में भारतीय वायु सेना के युद्धक विमानों ने बमबारी की है उससे पाकिस्तान की धरती भी थर्रा गई होगी।

इस युद्धाभ्यास में वायुसेना के 137 लड़ाकू विमानों ने हिस्सा लिया। युद्धाभ्यास के दौरान आकाश मिसाइलों के साथ जीपीएस और लेजर गाइडेड बम, रॉकेट लॉन्चर का इस्तेमाल किया गया। इस युद्धाभ्यास में मिग-27, मिग-29, मिराज-2000, सुखोई-30 एमकेआई, जगुआर जैसे विमान शामिल थे। इस युद्धाभ्यास के दौरान वायु सेना प्रमुख बीएस धनोआ भी मौजूद थे।

हर तीन साल में इस तरह का युद्धाभ्यास किया जाता है। इस बार की थीम है ‘सिक्योरिंग द नेशन इन पीस एंड वॉर’ है। वायु शक्ति में मिग-21 बाइसन, मिग-27 यूपीजी, एलसीए (तेजस), मिराज-2000, हॉक, सी-130 जे सुपर हरक्यूलिस, एमआई-17 वी 5 समेत कई विमानों ने अपनी क्षमता और तकत का प्रदर्शन किया।

इस दौरन 2 घंटे तक 137 लड़ाकू विमान और हेलीकॉप्टर्स रियल टाइम टारगेट को ध्वस्त करते दिखे। युद्धाभ्यास में आकाश और अस्त्र मिसाइलों के साथ जीपीएस व लेजर गाइडेड बम, रॉकेट लॉन्चर और हेलीकॉप्टर गनों का प्रयोग किया गया।

ये युद्धाभ्यास खास इसलिए है क्योंकि इसमें पहली बार लड़ाकू विमान से अस्त्र मिसाइल को छोड़ने का लाइव नजारा दिखेगा। अस्त्र को किसी भी ऊंचाई और रेंज से दुश्मन के ठिकानों पर फायर किया जा सकता है। इसकी मारक क्षमता 20 किलोमीटर से लेकर 80 किलोमीटर तक है।

(Visited 61 times, 1 visits today)
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *