सेंट लूसिया में 64 साल का इतिहास हुआ पुराना, कोहली की सेना ने रचा नया इतिहास

सेंट लूसिया के मैदान पर टीम इंडिया ने वेस्ट इंडीज से केवल तीसरा टेस्ट मैच या सीरीज नहीं जीता है। बल्कि इस जीत के साथ ही पिछले 64 साल के इतिहास के पन्ने को भी पलट कर रख दिया। विराट के धाकड़ लड़ाकों की आक्रामकता के सामने जेसन होल्डर की टीम के पैर उखड़ गए।

टीम इंडिया ने मेजबान के सामने तीसरे टेस्ट मैच के आखिरी दिन 346 रनों का लक्ष्य रखा था। होल्डर की टीम लक्ष्य का पीछा करने उतरी भी लेकिन बीच रास्ते में ही वेस्टइंडीज की पूरी टीम इस तरह से लड़खड़ाई कि उन्हें संभलने का मौका तक नहीं मिला। वेस्टइंडीज की पूरी टीम 108 रनों पर ही पवेलियन लौट गई। उधर टीम इंडिया में विराट सोच रखनेवाले कोहली की सेना ने वो कोहराम मचाया कि टीम इंडिया ने तीसरा टेस्ट 237 रनों से अपने नाम कर लिया।

अगर ये बात की जाए कि वेस्टइंडीज को किसने मजबूर किया। तो वो भी जान लीजिये। टीम इंडिया की तरफ से मोहम्मद सामी ने सबसे अधिक 3 विकेट लिये। ईशांत शर्मा और रवींद्र जडेजा को दो-दो विकेट मिले। वेस्टइंडीज की तरफ से दूसरी पारी में डारेन ब्रावे ने सर्वाधिक 59 रन बनाए। भारत की जीत में आर अश्विन का जिक्र होना जरुरी है। अश्विन ने पहली पारी में 118 रन बनाने के साथ तीन विकेट भी झटके। इस सीरीज में अश्विन का ये दूसरा टेस्ट था। रिद्धिमान साहा ने 104 रन बनाए। टेस्ट में साहा का पहला शतक है।

Loading...