पाकिस्तान में फेसबुक पर ईशनिंदा के जुर्म में युवक को मिली सजा-ए-मौत

नई दिल्ली:  पाकिस्तान में एक मुस्लिम शिया शख्स को फेसबुक पर ईशनिंदा के जुर्म में मौत की सजा दी गई है। एंटी टेररिज्म कोर्ट ने ये सजा सुनाई है। ये पहला मामला है जब किसी को सोशल मीडिया पर ईशनिंदा के जुर्म में मौत की सजा सुनाई गई हो। जानकारी के मुताबिक मौत की सजा पाने वाला शख्स लाहौर से 200 किलोमीटर दूर ओकरा का रहनेवाला है।

न्यूज एजेंसी के मुताबिक 30 साल के तैमूर रजा को पंजाब प्रोविंस के बहावलपुर डिस्ट्रिक्ट में एंटी टेररिज्म कोर्ट के जज ने शनिवार को ये सजा सुनाई। कोर्ट ने तैमूर को फेसबुक पर पैगंबर मोहम्मद और उनकी पत्नी के खिलाफ आपत्तिजनक कॉन्टेंट पोस्ट करने का दोषी पाया था। पाकिस्तान में साइबर क्राइम से जुड़े मामले में ये सबसे सख्त सजा है। पाकिस्तान में 97 फीसदी आबादी मुस्लिम है। यहां ईशनिंदा को बेहद ही संवेदनशील मुद्दा माना जाता है। लेकिन ये पहला मामला है जिसमें किसी को ऐसा करने पर मौत की सजा सुनाई गई है।

दरअसल तैमूर के खिलाफ उसी के साथ काम करने वालों ने शिकायत दर्ज करवाई थी। शिकायत में कहा गया था कि तैमूर ने पैगंबर मोहम्मद और उनकी पत्नी के खिलाफ फेसबुक पर अपमानजनक चीजें पोस्ट की थी। जिसके बाद तैमूर को पिछले साल बहावलपुर में गिरफ्तार किया गया। बहावलपुर में ही उसे शनिवार को ये सजा सुनाई गई।

पाकिस्तान में ईशनिंदा को लेकर काफी सख्त कानून है। कई संगठनों की तरफ से इसका विरोध भी किया जाता रहा है। कई संगठनों का कहना है कि इस कानून का गलत इस्तेमाल हो रहा है।

Loading...

Leave a Reply