पीएम ने देश की सुरक्षा को खतरे में डाला-भगवंत मान

दिल्ली: आम आदमी पार्टी के सांसद भगवंत मान ने लोकसभा अध्यक्ष के नाम एक चिट्टी लिखी है। जिसमें भगवंत मान ने कहा है कि अगर मेरे वीडियो बनाने से संसद की सुरक्षा को खतरा पैदा हो गया तो प्रधानमंत्री जी ने तो पूरे देश की सुरक्षा के खतरे में डाल दिया।

bhagwanti-mann-letter-to-pm

AAP के सांसद भगवंत मान ने चिट्टी में लिखा है कि

माननीय अध्यक्ष मोहदय,

कल आपने मेरे वीडियो बनाने पर एक समिति बनाई है। समिति जांच करेगी कि इस वीडियो में संसद की सुरक्षा को खतरा तो नहीं पैदा हुआ।

2001 में ISI ने संसद पर हमला किया। फिर 2016 में उसी ISI ने पठानकोट एयरबेस पर हमला किया। प्रधानमंत्री जी ने उसी ISI को उसी पठानकोट एयरबेस में बाइज्जत बुलाकर घुमाया। ISI पूरे एयरबेस के नक्शे बनाकर ले गए। क्या इससे पूरे देश की सुरक्षा को खतरा नहीं हुआ? मेरा वीडियो बनाना देश की सुरक्षा के लिए खतरा है या प्रधानमंत्री जी का ISI को बुलाकर एयरबेस में घुमाना देश की रक्षा के लिए खतरा है?

मेरा आपसे निवेदन है कि आपको इस कमेटी के कार्य का दायरा बढ़ाना चाहिए। प्रधानमंत्री जी के इस कृत को भी कमेटी के कार्य के दायरे में लाया जाए। मेरे साथ-साथ प्रधानमंत्री को भी ये कमेटी समन करे। यदि मैं दोषी हूं तो प्रधानमंत्री मुझसे 100 गुना ज्यादा दोषी हैं।

मुझे उम्मीद है आप पक्षपात नहीं करेंगी।

AAP सांसद भगवंत मान ने ये चिट्ठी तब लिखी है जब उनके खिलाफ 9 सदस्यीय कमेटी का गठन किया गया है। जो इस बात की जांच करेगी कि भगवंत मान जो संसद भवन का वीडियो बनाया है उससे संसद की सुरक्षा को किस हद तक खतरा है। साथ ही कमेटी की रिपोर्ट आने तक यानि 3 अगस्त तक भगवंत मान के संसद में आने पर रोक भी लगा दी गई है।

जिस पठानकोट एयरबेस का जिक्र भगवंत मान कर रहे हैं दरअसल वहां इसी साल आतंकी हमला हुआ था। हमले के बाद भारत पाकिस्तान के बीच एक संयुक्त जांच दल बनाया गया था। जिसके तहत पाकिस्तानी जांच दल को पठानकोट आकर और भारतीय जांच दल को पाकिस्तान जाकर पठानकोट हमले की जांच करनी थी। पाकिस्तान की तरफ से जो जांच दल भारत आया था उसमें ISI अधिकारी भी शामिल था। इसी पर भगवंत मान पीएम नरेंद्र मोदी पर सवाल उठा रहे हैं।

Loading...