गुजरात में गो हत्या करने पर होगा आजीवन कारावास, जमानत भी नहीं मिलेगी

नई दिल्ली: गुजरात विधानसभा में गो हत्या संशोधन बिल पास हो गया है। इसके बाद अब गुजरात में गो हत्या करनेवालों को आजीवन कारावास की सजा दी जाएगी। साथ ही इसे गैरजमानती अपराध बना दिया गया है। यानि अगर गो हत्या में कोई शामिल रहता है तो उसे जमानत नहीं मिलेगी। साथ ही इसके लिए 1 से 5 लाख रुपये तक का जुर्माना भी लगेगा।

गुजरात में गोवंश की रक्षा के लिए ये संशोधन विधेयक पास किया गया है। जिसमें कई कड़े प्रावधान हैं। अगर कोई गाय की हत्या करने का दोषी होता है तो उसे उम्र कैद की सजा मिलेगी। अगर किसी को गोमांस ले जाते हुए पकड़ा जाता है तो उसे 7 से 10 साल तक की सजा मिल सकती है। गोमांस के साथ पकड़े जाने पर उसे जमानत नहीं मिलेगी। यानि इसे गैरजमानती अपराध माना गया है।

ये भी पढें :

-तीन तलाक खत्म करने के लिए अल्लाह ने मोदी जी को चुना है- सुहैब कासमी

-सुषमा स्वराज के इस ट्वीट ने महिला को खुदकुशी करने से रोक लिया

नए कानून के मुताबिक अगर किसी वाहन से गोवंश को बूचड़खाने या काटने के लिए ले जाया जाता है तो उस वाहन को हमेशा के लिए जब्त कर लिया जाएगा। इस मामले में 1 से 5 साल तक के लिए सजा का भी प्रावधान है। विधानसभा में पारित इस संशोधन बिल पर राज्य के गृह राज्य मंत्री प्रदीप सिंह जडेजा ने कहा अकसर रात के समय में गायों को इधर से उधर लाने ले जाने का काम होता है। इसपर रोक लगाने के लिए शाम के 7 बजे से सुबह के 5 बजे तक पशुओं क आवाजाही नहीं हो सकेगी।

इस विधेयक के पास होने के बाद अगर कोई गोवंश की हत्या कर उसके मांस को बेचता है या उसे ले जाते हुए पकड़ा जाता है तो उसके खिलाफ भी कड़ी कार्रवाई होगी। गुजरात के गृह राज्य मंत्री ने कहा गोवंश की रक्षा के लिए इस तरह का कानून बनाया गया।

Loading...

Leave a Reply