वोडाफोन-आईडिया के विलय को मिली मंजूरी

वोडाफोन-आईडिया के विलय को मिली मंजूरी

नई दिल्ली: देश की दो बड़ी टेलीकॉम कंपनी का विलय होने जा रहा है। आइडिया सेल्युलर का वोडाफोन इंडिया के साथ विलय होने जा रहा है। कुमार मंगलम बिड़ला की स्वामित्व वाली देश की तीसरे नंबर की कंपनी आइडिया सेल्युलर की तरफ से बताया गया कि बोर्ड ने विलय के प्रस्ताव पर मंजूरी दे दी है। जिसके बाद वोडाफोन मोबाइल सर्विसेज लिमिटेड और आइडिया सेल्युलर का विलय हो जाएगा। इस विलय के बाद भारती एयरटेल को पीछे कर नंबर एक की कंपनी हो जाएगी।




विलय के प्रस्ताव के मुताबिक नई कंपनी में वोडाफोन की हिस्सेदारी 45 फीसदी होगी और आइडिया की हिस्सेदारी 26 फीसदी। आइडिया का वैल्यूएशन 72,200 करोड़ आंका गया है। फाइलिंग के मुताबिक आदित्य बिड़ला ग्रुप के पास 130 रुपये प्रति शेयर की दर से नई कंपनी के 9.5 फीसदी शेयर खरीदने का हक होगा। दोनों कंपनियों के विलय की मंजूरी के बाद आइडिया के शेयर में 2.5 फीसदी का उछाल आया है।

विलय में वोडाफोन और आइडिया के सभी शेयर का विलय होगा लेकिन इंडस टावर्स में वोडाफोन के 42 फीसदी शेयर इस विलय से अलग होंगे। आइडिया के नए शेयर को वोडाफोन में जारी करने के साथ विलय लागू हो जाएगा और वोडाफोन इंडिया अपनी पैरंट कंपनी से अलग हो जाएगा। विलय की सारी प्रक्रिया अगले साल तक पूरी हो जाएगी।

Loading...

Leave a Reply