बाबा रामदेव ने कह दी बड़ी बात ‘इसबार किसी के पक्ष में नहीं बल्कि निष्पक्ष हूं’

बाबा रामदेव ने कह दी बड़ी बात ‘इसबार किसी के पक्ष में नहीं बल्कि निष्पक्ष हूं’




नई दिल्ली: योग गुरु रामदेव ने सियासी भूचाल की बात कहकर नई बहस छेड़ दी है। बुधवार को वोट डालने के बाद बाबा रामदेव ने प्रेस से बात करते हुए कहा कि वो ना तो किसी के पक्ष में हैं और ना ही किसी के विपक्ष में। बल्कि वो संतुलन की स्थिति में आ चुके हैं। साथ ही रामदेव ने कहा इसबार के चुनाव में बड़े बड़े राजनितक सूरमा ध्वस्त हो जाएंगा। एक भूचाल आएगा।

रामदेव के पक्ष-विपक्ष वाले बयान का विश्लेषण इसलिए हो रहा है क्योंकि 2014 के लोकसभा चुनाव में रामदेव खुलेतौर पर बीजेपी का समर्थन कर रहे थे। लोगों से बीजेपी के पक्ष में वोट करने की अपील कर रहे थे। लेकिन इसबार ऐसा नहीं है। रामदेव का जिक्र ना तो यूपी चुनाव में हुआ ना ही उत्तराखंड में और ना ही पंजाब, गोवा में।

रामदेव से जब यह पूछा गया कि क्या अब बीजेपी से उनका मोहभंग हो चुका है। इस सवाल के जवाब में रामदेव ने साफ तौर पर कुछ भी नहीं कहा। इस सवाल के बदले में रामदेव ने इतना ही कहा कि आज चुनाव का दिन है इसलिए वो इससे ज्यादा कुछ नहीं बोलेंगे। रामदेव ने भले ही केवल इतना कहा हो कि वो ना तो किसी के पक्ष में हैं और ना ही किसी के विपक्ष में।

रामदेव के इस बयान का ये मतलब भी निकलता है कि वो बीजेपी के पक्ष में वो इसबार नहीं है। इसका एक और मतलब ये भी निकाला जा रहा है कि अगर वो न्यूट्रल हैं तो फिर स्वाभाविक तौर पर उनकी बेजेपी से दूरी भी बन गई है। क्योंकि पक्ष और न्यूट्रल रहने के बीच में एक फासला भी होता है। साफ तौर पर रामदेव ने भले ही नहीं कहा कि इसबार वो बीजेपी के पक्ष में क्यों नहीं बोल रहे हैं लेकिन समझने वाले इतना तो समझ ही गए कि पिछले ढाई साल में बीजेपी और रामदेव की करीबी एक दूरी में बदल चुकी है। शायद यही वजह है कि कभी खुलकर बीजेपी का समर्थन करनेवाले रामदेव आज मौन हैं।

Loading...

Leave a Reply