RIYADH TORTURE

रियाध में फंसी बहन को बचाने के लिए सुषमा स्वराज से गुहार

रियाध में फंसी बहन को बचाने के लिए सुषमा स्वराज से गुहार

नई दिल्ली:  हैदराबाद की एक लड़की रेशमा ने विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से मदद की गुहार लगाई है। रेशमा ने कहा कि उनकी बहन हुमैरा पिछले महीने यानि जुलाई में 23 तारीख को रियाध गई थी। एक ट्रैवल एजेंट ने उसे वहां नौकरी दिलाने का वादा किया था। जिसके बाद वो रियाध गई। लेकिन वहां जाने के बाद अब हुमैरा को ये एहसास हुआ है कि ट्रैवल एजेंट ने उसके साथ धोखा किया है।

रेश़मा ने कहा कि उसकी बहन को रियाध के एक घर में बंद करके रखा गया है। उसे चार दिनों से खाना नहीं दिया गया है। उसे पानी भी नहीं दिया जाता है। रेशमा ने कहा कि हुमैरा ने उसे फोन पर कहा कि बुड्ढा उसे टॉर्चर कर रहा है। अगर वो किसी तरह से खाना चुराकर रख लेती है तो वो उसे छीन लेता है। उसे किसी से बात करने की भी इजाजत नहीं है। हुमैरा ने अपने पास एक फोन छिपाकर रख हुआ था। उसी से वो वॉश रुम जाकर बात करती है।

रेशमा ने कहा कि ट्रैवल एजेंट के धोखाधड़ी की शिकायत उसने हैदराबाद पुलिस से भी की थी। लेकिन पुलिस ने उसकी कोई मदद नहीं की। ट्रैवल एजेंट ने उसे रियाध में बच्चों की देखभाल करनेवाली आया का काम दिलाने के की बात कही थी। लेकिन वहां पहुंचने के बाद उसपर हर तरह के जुल्म किये जा रहे हैं।

रेशमा ने कहा कि उन्होंने सऊदी अरब में भारतीय दूतावास से संपर्क किया था। रेशमा के मुताबिक उन्होंने कहा कि अगर हुमैरा अगर घर से निकलकर उनके दूतावास आ जाए तो वो उसकी पूरी मदद करेंगे। लेकिन रेशमा का कहना है कि रियाध में फंसी उसकी बहन ऐसा नहीं कर सकती है। उसने कहा हुमैरा ने कहा अगर उसकी मदद नहीं की गई तो वो घर से कूदकर खुदकुशी कर लेगी।

Loading...

Leave a Reply