pv-sindhu-and-gopichand

सिंधू के सम्मान में हैदराबाद में निकाला गया विजय जुलूस

सिंधू के सम्मान में हैदराबाद में निकाला गया विजय जुलूस

हैदराबाद: रियो ओलंपिक में बैडमिनटन में सिल्वर मेडल जीतकर पीवी सिंधू अपनी सरजमीं पर लौट चुकी हैं। हैदराबाद में सिंधू के सम्मान में एयरपोर्ट से लेकर स्टेडियम तक मानव श्रृंखला सजी थी। लोगों को पता था कि सिंधू सोमवार सुबह साढ़े नौ बजे के करीब हैदराबाद एयरपोर्ट पहुंचेगी। लेकिन एक विजेता बेटी से मुलाकात की बेकरारी इस कदर थी सभी में की वो घंटों पहले से अपनी बेटी के इंतजार में हैदराबाद के आसमान में नजरें गड़ाए बैठे थे। हर उस विमान को टकटकी लगाए देख रहे थे जो हैदराबाद एयरपोर्ट पर लैंड कर रहे थे।

एयरपोर्ट के बाहर राज्य सरकार के अधिकारी से लेकर मंत्री तक मौजूद थे पीवी सिंधी का स्वागत करने के लिए। आखिर वो लम्हा भी आ गया जब सिंधू अपने गुरु फुलेला गोपीचंद के साथ एयरपोर्ट से बाहर निकलीं। रियो में सिंधू ने बड़ी उपलब्धी हासिल की थी, उस कामयाबी के सामने आज हैदराबाद में उनसे मिलने पहुंचे लोगों को बधाई के अपने शब्द कम महसूस हो रहे थे। गुरु-शिष्य की जोड़ी तपस्या और समर्पण की मिसाल है।

बेस्ट की डबल डेकर बस में हैदराबाद एयरपोर्ट से सिंधू का विजय जुलूस निकला। खुली छत वाली बस को खास तरीके से सजाया गया था। तकरीबन 200 किलो के फूलों से बस की सजावट की गई थी। उसी बस पर सवार होकर सिंधू लोगों की तरफ से दिये जा रहे सम्मान को स्वीकर कर रही थीं।
सिंधू पहली भारतीय महिला है जिसने ओलंपिक में बैडमिनटन के सिंगल मुकाबले में सिल्वर मेडल जीता है। सिंधू की जीत केवल धातु के एक टुकड़े तक सीमित नहीं है। ये जीत असीमित अविश्वसनीय है। कहना गलत नहीं होगा कि इस जीत से सिंधू ने सवा सौ करोड़ हिंदुस्तानियों का दिल जीत लिया है।

Loading...

Leave a Reply