abdul-basit-president-pakistan

अब्दुल बासित का बड़बोलापन, ‘जश्न-ए-आजादी’ कश्मीर की आजादी के नाम

अब्दुल बासित का बड़बोलापन, ‘जश्न-ए-आजादी’ कश्मीर की आजादी के नाम

दिल्ली: भारत में पाकिस्तनी उच्चायुक्त अब्दुल बासित ने अपने स्वतंत्रता दिवस पर कश्मीर का राग अलापा है। दिल्ली में पाकिस्तानी उच्चायोग में पाकिस्तान की आजादी का झंडा फहराने के बाद अब्दुल बासित ने कहा इस साल की जश्न ए आजादी हम कश्मीर की आजादी के नाम करते हैं। पाकिस्तान ने हमेशा ही भारत के साथ अपने रिश्ते सुधारने की कोशिश की। बासित के बेलगाम बोल यहीं नहीं रुके। आगे उन्होंने कहा कि आजादी तक कश्मीर के लिए संघर्ष जारी रहेगा। कश्मीर के लिए जान देनेवालों की कुर्बानी बेकार नहीं जाएगी।

पिछले महीने कश्मीर में हिजबुल आतंकी बुरहान वानी के मारे जाने के बाद से ही पाकिस्तान की नींद हराम हो चुकी है। पाकिस्तानी आतंकी बुरहान वानी को शहीद का दर्जा दे रहा है। साथ ही बुरहान के एनकाउंटर के बाद कश्मीर में हुई हिंसा पर पाकिस्तान कई बार कह चुका है कि भारत कश्मीर में मानवाधिकर का उल्लंघन कर रहा है।

कश्मीर के हालात पर ही शुक्रवार को सर्वदलीय बैठक हुई थी। जिसमें भारत की तरफ पाकिस्तान की हरकतों पर सख्त रुख अपनाया गया। बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि पाक अधिकृत कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है। पाकितान की तरफ से बलूचिस्तान में मानवाधिकार का उल्लंघन किया जा रहा है। हम विदेशों में रहनेवाले पाक अधिकृत कश्मीर के लोगों से संपर्क कर बात करेंगे। पीएम मोदी के इस पहल का पाक अधिकृत कश्मीर के लोगों ने भी खुलकर समर्थन किया था। वहां के नेताओं ने मांग की कि भारत उनकी मांग संयुक्त राष्ट्र में उठाए। साथ ही पाकिस्तान की तरफ से किये जा रहे दमन और पीओके में मानवाधिकार के उल्लंघन का मुद्दा भी उठाए।

Loading...

Leave a Reply