mobile-popcorn

मोबाइल फोन के रेडियेशन से कॉर्न कैसे पॉपकॉर्न में बदल गया, देखें Video

मोबाइल फोन के रेडियेशन से कॉर्न कैसे पॉपकॉर्न में बदल गया, देखें Video

नई दिल्ली: सोशल साइट्स पर वीडियो इनदिनों वायरल हो रहा है। जिसमें दिखाया जा रहा है कि मोबाइल फोन के रेडियेशन से टेबल पर रखा कॉर्न अपने आप पॉपकॉर्न में बदल गया। इस वीडियो को लाखों लोगों ने अबतक देखा है। हलांकि इस वीडियो को कुछ साल पहले अपलोड किया गया है। लेकिन चर्चा में अब आया है। हलांकि NTI इस वीडियो की सच्चाई या कॉर्न के पॉपकॉर्न में बदलने की सत्यता की पुष्टि नहीं करता है।

वीडियो में दिखाया जा रहा है कुछ लोग बैठे हुए हैं। उनके सामने एक टेबुल है जिसपर ग्लास में जूस जैसा कोई पेय पदार्थ रखा हुआ है। सभी लोग आपस में हंसी मजाक कर रहे हैं। तभी उनमें से एक शख्स टेबिल पर कॉर्न (मकई) के कुछ दाने रखता है। जिसके बाद उसके चारों तरफ तीन मोबाइल फोन रखे जाते हैं। मोबाइल फोन और कॉर्न के दानों के बीच कुछ दूरी है।

ये भी पढें :

– ‘लश्कर’ अलगाववादी नेताओं की हत्या कर कश्मीर में अशांति फैलाना चाहता है?

इसके बाद तीनों शख्स जिनमें से एक महिला भी है अपने अपने हाथ में एक दूसरा मोबाइल फोन लेती हैं। और उससे उन मोबाइल फोन का नंबर डायल करने लगती हैं जो कॉर्न के दानों के पास रखे हुए हैं। अब एक एख कर कॉर्न के दानों के पास रखे मोबाइल फोन पर रिंग किया जाता है। एक एक कर तीनों मोबाइल फोन बज उठते हैं।

popcorn-mobile-2

तीनों मोबाइल फोन में जैसे ही रिंग होनी शुरु होती है वहां रखे कॉर्न के दानों में भी थोड़ी हलचल होती है। इसके बाद कॉर्न के वो दाने एक एक कर फूटने लगते हैं। ठीक उसी तरह से जैसे गर्म कढ़ाई में जब कॉर्न के दानों को डाला जाता है तो वो फूटते हैं। कुछ ही सेकेंड्स में सभी कॉर्न के दाने अपनी जगह से दूर छिटक जाते हैं। इसके बाद वहां बैठे तीनों शख्स दूर छिकटे कॉर्न के उन दानों को इकट्ठा करते हैं। लेकिन कॉर्न के वो दाने अब पॉपकॉर्न में बदल चुके होते हैं।

तीनों शख्श इसे लेकर आपस में मजाक भी करते हैं। और वो तीनों अपने अपने हाथ में लिये हुए पॉपकॉर्न को खा जाते हैं। वीडियो में बताया जा रहा है कि ये सबकुछ मोबाइल फोन पर रिंग करने के बाद हुए रेडियेशन की वजह से हुआ। यू ट्यूब पर वीडियो के बारे में जानकारी दी गई है कि एक साथ एक ही जगह पर रखे गए मोबाइल फोन में किसी मिनी माइक्रोवेव की तरह रेडियेशन उत्पन्न होता है। और उसी रेडियेशन की वजह से कॉर्न के दाने पॉपकॉर्न में बदल गए।

इस वीडियो को देखने के बाद आप भी सोच सकते हैं कि अगर कॉर्न के दानों पर मोबाइल फोन का रेडियेशन इस तरह असर करता है तो इंसानी शरीर पर भी मोबाइल फोन का रेडियेशन इसी तरह से असर डालता है? इस वीडियो की सत्यता क्या है या फिर रेडियेशन वाली बात कितनी सच है इसकी पुष्टि NTI नहीं करता है। इस वीडियो को यू-ट्यूब से लिया गया है।

Loading...

Leave a Reply