केंद्र सरकार का मिशन कश्मीर, गृह मंत्री कर सकते हैं बड़ा एलान

दिल्ली: अशांत कश्मीर को शांत करने का रास्ता निकालने के लिए केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह श्रीनगर पहुंचे हैं। अपने इस दो दिन के दौरे में राजनाथ सिंह राज्य प्रशासन के साथ साथ सभी दलों के नेताओं से भी बात करेंगे। राजनाथ सिंह के इस दौरे में कोशिश ये रहेगी की सभी दलों से बात कर किसी तरह बीच का रास्ता निकाला जाए। राजनाथ सिंह से जम्मू कश्मीर के पूर्व सीएम उमर अब्दुल्ला ने मुलाकत की। गृहमंत्री अपने इस दौरे में कुछ बड़े एलान भी कर सकते हैं।

श्रीनगर में राजनाथ सिंह शांति बहाली के लिए कोशिश कर रहे थे। उधर पुलवामा में सुरक्षाबलों को निशाना बनाकर पत्थरबाजी की जा रही थी। जिसमें सुरक्षाबलों की तरफ से जवाबी कार्रवाई में एक युवक की मौत हो गई। जबकि कई लोग घायल हो गए।

राजनाथ सिंह के दौरे से एक दिन पहले यानि मंगलवार को ही घाटी में 12 सालों के बाद बीएसएफ की 26 कंपनियों की तैनाती की गई है। लगातार 47 दिनों से जारी हिंसा के बाद ये तैनाती जरुरी हो गई थी। आर्मी चीफ दलबीर सिंह मंगलवार को हालात का जायजा लेने घाटी पहुंचे थे। आनेवाले दिनों में बीएसएफ की और 30 कंपनियों की तैनाती हो सकती है।

घाटी में जारी अशांती के पीछे बेरोजगारी को भी वजह माना जा रहा है। क्योंकि ये जानकारी निकलकर सामने आ रही है कि घाटी में पत्थरबाजी के लिए युवाओं को 300-700 रुपये दिये जा रहे हैं। ये जानकारी भी निकलकर सामने आ रही है कि कश्मीर में पत्थरबाजी और हालात बिगाड़ने के लिए अलगाववादियों को 70 करोड़ रुपये दिये गए हैं। सीएम महबूबा मुफ्ती ने भी कहा था कि लोगों को अगर रोजगार दे दिये जाएं तो इस तरह की घटनाएं रुक सकती हैं। साथ ही महबूबा मुफ्ती ने कहा था कि केवल मुट्ठी भर लोग पत्थरबाजी में लगे हैं। ज्यादातर लोग अमन चाहते हैं। इन सब बातों पर गौर करने के बाद ये उन्मीद की जा रही है की राजनाथ सिंह जम्मू कश्मीर के लिए सरकारी नौकरी में बंपर भर्ती का एलान कर सकते हैं।

Loading...

Leave a Reply