मारा गया हिजबुल का टॉप कमांडर सबजार भट्ट, घाटी में 8 घंटे में 9 आतंकी मारे गए

नई दिल्ली:  पुलवामा के त्राल में सेना को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। यहां हिजबुल का टॉप कमांडर सबजार भट्ट को सुरक्षाबलों ने मार गिराया है। बुरहान वानी के मारे जाने के बाद मूसा को हिजबुल का कमांडर बनाया गया था। लेकिन जब मूसा ने हिजबुल छोड़ दिया तो सबजार भटट् को कश्मीर में हिजबुल का टॉप कमांडर बनाया गया ।

आतंकियों ने शुक्रवार रात को सेना के गश्ती दल पर हमला किया था। जिसके बाद सेना ने पूरे इलाके को घेरकर सर्च ऑपरेशन शुरु किया था। सबजार भट्ट इसी इलके में एक घर में छिपा हुआ था। उस घर की पहचान होने के बाद सुरक्षाबलों ने उसे चारों तरफ से घेर लिया। और मुठभेड़ में मार गिराया। बताया जा रहा है कि मारे जाने से पहले सबजार ने अपने घरवालों से फोन पर बात भी की। सुरक्षाबलों ने सबजार के साथ साथ फैजान को भी मार गिराया है। इसके अलावे एक और आतंकी को भी मारा गया है।

सबजार के मारे जाने के बाद वहां के स्थानीय लोग मुठभेड़ वाली जगह पर पहुंच गए। उन्होंने सेना पर पत्थर भी फेंके हैं। इसके बावजूद सेना का सर्च ऑपरेशन जारी है। सेना को जानकारी मिली थी कि इस इलाके में कुछ और आतंकी छिपे हो सकते हैं।

सबजार बुरहान वानी के बचपन का दोस्त था। वो दक्षिण कश्मीर के त्राल का ही रहनेवाला था। 2015 में बुरहान के मारे जाने के बाद सबजार हिजबुल में शामिल हुआ था। सबजार सोशल मीडिया पर अपने आतंकी एजेंडे का प्रचार प्रसार करता था।

सबजार का मारा जाना सुरक्षाकर्मियों के लिए बड़ी कामयाबी है। हाल के दिनों में सेना ने कश्मीर में आतंकियों के खिलाफ ऑपरेशन चला रखा है। जिसमें पिछले 12 घंटे में 8 आतंकी मारे गए हैं। आज सुबह रामपुर में हुए मुठभेड़ में 6 आतंकी मारे गए थे। जबकि त्राल में सबजार समेत तीन आतंकी मारे गए हैं। इससे पहले शुक्रवार को सेना ने पाकिस्तान के बॉर्डर एक्शन टीम यानि BAT के दो आतंकी मारे थे।

Loading...