हरियाणा पुलिस ने थाने में रेप पीड़ित के कपड़े उतरवाए और कर दी बेहद ही गंदी हरकत

नई दिल्ली:  पंजाब हरियाणा हाईकोर्ट ने हरियाणा के डीजीपी को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है। दरअसल पंजाब हरियाणा हाईकोर्ट में रेप पीड़ित नाबालिग लड़की की तरफ से शिकायत की गई थी कि जांच के दौरान कैथल पुलिस ने उसके कपड़े उतरवाए और उसके साथ गंदी हरकत की। पीड़िता ने अपनी शिकायत में कहा है कि हरियाणा में कैथल की पुलिस ने उससे शर्ट खोलकर दिखाने को कहा। और दूसरे पुलिसकर्मी ने उसकी जांघों पर हाथ रख दिये।

पीड़िता ने कहा ऐसा करवाते वक्त पुलिसवालों ने उससे कहा था कि वो देखना चाहते हैं कि सचमुच में रेप हुआ है या नहीं। लड़की ने अपने आरोप में ये भी कहा है कि ऐसा करते वक्त पुलिसवालों ने उससे यहां तक कहा कि वो इसके बारे में किसी से न बताए। नहीं तो उसका मेडिकल नहीं करवाया जाएगा।

इस मामले की अगली सुनवाई 5 जुलाई को होनी है। कोर्ट ने उससे पहले हरियाणा के डीजीपी से इस मामले में जवाब मांगा है। पीड़िता ने 20 नवंबर 2016 को रेप का केस दर्ज करवाया था। पीड़िता ने आरोपी को पहचानने का दावा भी किया है। पीड़िता ने रेप के साथ साथ थाने में उसके साथ हुए बेहद ही शर्मनाक सलूक के बारे में भी जानकारी दी है। हलांकी इस मामले में अभी तक किसी पुलिसकर्मी के खिलाफ केस दर्ज नहीं हुआ है।

पीड़िता के मुताबिक 23 नवंबर को कैथल के पुलिसवाले उसे आरोपी के साथ क्राइम इन्वेस्टिगेशन एजेंसी यानि सीआईए के कार्यालय में ले गए। वहीं पर पुलिसवालों ने उसके साथ शर्मनाक हरकत की।

पीड़िता ने कहा है कि सीआईए के पुलिसकर्मी ने कहा कि शर्ट के बटन खोलकर उसे दिखाऊं कि मेरा रेप हुआ है। इसके बाद उसने अपने हाथ मेरी जांघों पर रखे। एक दूसरे पुलिसकर्मी ने मेरे पैरों को हाथ में लिया और किसी से कुछ न कहने के लिए कहा। आरोप के मुताबिक लड़की से कहा गया कि अगर किसी को बताया तो मेडिकल जांच नहीं की जाएगी। इसके बाद मुझे महिला थाने ला जाया गया।

Loading...