हरियाणा में खट्टर सरकार गौ रक्षकों को देगी सरकारी पहचान पत्र

नई दिल्ली:  गौ रक्षा के नाम पर हो रही गुंडागर्दी कानून व्यवस्था के लिए एक बड़ी चुनौती साबित हो रही है। इसकी गंभीरता का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कई बार गौ रक्षा के नाम पर हो रही गुंडागर्दी और फर्जी गौ रक्षकों को कड़ी चेतावनी दी है। लेकिन इसके बाद भी गौ रक्षकों की गुंडागर्दी पर लगाम नहीं लगायी जा सकी है।

रविवार को पीएम मोदी की अपील के बाद अब हरियाणा की खट्टर सरकार ने एक नया तरीका निकाला है। खट्टर सरकार सही मायने में गौ रक्षा करने वालों को पहचान पत्र जारी करेगी। जिससे असली और नकली गौ रक्षकों की पहचान की जा सकेगी। दरअसल रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी गौ रक्षा के नाम पर हिंसा करने वालों पर कार्रवाई की बात कही थी। पीएम मोदी ने कहा था गौ रक्षा के नाम पर आपसी दुश्मनी निकालने वालों पर राज्य सरकार कार्रवाई करे।

सर्वदलीय बैठक में पीएम मोदी ने कहा था गौ रक्षा के नाम पर निजी दुश्मनी निकलाने वालों पर राज्य सरकार कड़ी कार्रवाई करें। पीएम ने कहा था देश में गौ माता की रक्षा होनी चाहिए और उसके लिए कानून है। लेकिन जो लोग इसका नाजायज फायदा उठा रहे हैं, उनपर राज्य सरकार कार्रवाई करे। पीएम ने इससे पहले भी गौ रक्षा के नाम पर हिंसा करनेवालों को कड़ा संदेश दिया था। साबरमती आश्रम में गौ रक्षा पर बोलते बोलते पीएम भावुक हो गए थे।

खट्टर सरकार ने गौ रक्षकों को सरकारी पहचान पत्र देने और पीएम की कड़ी चेतावनी का कितना असर होता है ये तो आनेवाले दिनों में पता चलेगा। फिलहाल इसे एक नए प्रयोग से ज्यादा कुछ भी नहीं कहा जा सकता।

Loading...

Leave a Reply