Hamid ansari

देश के मुसलमानों में असुरक्षा और भय बढ़ रहा है- हामिद अंसारी

देश के मुसलमानों में असुरक्षा और भय बढ़ रहा है- हामिद अंसारी

नई दिल्ली:  उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी ने अपने कार्यकाल के खत्म होते होते देश के मुसलमानों को लेकर ऐसी बात कह दी जिसके बाद उसपर राजनीतिक बहस शुरु हो गई। हामिद अंसारी ने कहा देश में असहुष्णुता बढ़ रही है और लोगों पर बढ़ते भीड़ के हमले के बाद देश के मुसलमानों में भय और असुरक्षा का माहौल है। पीटीआई के मुताबिक हामिद अंसारी ने ये बात राज्य सभा टीवी को दिये इंटर्व्यू में कही। उप राष्ट्रपति हामिद अंसारी के इस बताय के बाद अब मोदी सरकार को कटघरे में खड़ा किया जा सकता है।

पीटीआई के मुताबिक हामिद अंसारी ने कहा ये आकलन सही है कि देश के मुसलमानों में आज असुरक्षा और घबराहट का माहौल है। देश के अलग अलग हिस्सों में मुझे ऐसी बातें सुनने को मिलती हैं। लोगों की भारतीयता पर सवाल खड़े करने की प्रवृत्ति भी बेहद चिंताजनक है। अंसारी ने आगे कहा लोगों पर भीड़ के बढ़ते हमले अंधविश्वास का विरोध करनेवालों की हत्याएं और कथित घर वापसी के मामले भारतीय मूल्यों में आ रहे गिरावट के उदाहरण हैं। इससे ये भी पता चलता है कि कानून व्यवस्था को लागू करने की सरकारी अधिकारियों की क्षमता भी अलग अलग स्तरों पर खत्म हो रही है।

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक हामिद अंसारी ने ये भी कहा कि वो असहनशीलता का मुद्दा प्रधाननमंत्री नरेंद्र मोदी और दूसरे मंत्रियों के सामने भी उठा चुके हैं। लेकिन उसका खास असर नहीं हुआ।

हामिद अंसारी के इस बयान ने सियासी रंग ले लिया है। कांग्रेस ने अंसारी के बयान का समर्थन किया है। जबकि बीजेपी की तरफ से कहा गया है कि वो 10 साल से उपराष्ट्रपति हैं अबतक उन्हें असुरक्षा का माहौल नहीं दिखा लेकिन अब जबकि उनका कार्यकाल खत्म हो रहा है तो उन्हें असुरक्षा का माहौल दिखाई देने लगा है। उनका ऐसा बयान दुर्भाग्यपूर्ण है।

Loading...

Leave a Reply