गुरुग्राम पुलिस कमिश्नर पर गिरी महाजाम की गाज, रोहतक हुआ ट्रांसफर

गुरुग्राम/हरियाणा: गुरुवार शाम से शुक्रवार शाम तक यानि तकरीबन 22 घंटे तक गुरुग्राम बंधक बना रहा। लोग जाम में फंसे रहे। शुक्रवार को जब हंगामा मचा तो उच्च स्तरीय बैठक हुई। सीएम खट्टर ने सारी जिम्मेदारियों से पल्ला झाड़कते हुए कहा दिल्ली सरकार की वजह से जाम लगा। इतने से बात नहीं बनी इसलिए माहजाम के लिए ऐसे मोहरे की तलाश की गई जिसे कसूरवार ठहराया जा सके। शुक्रवार रात तक वो मोहरा ढूंढ लिया गया और गुरुग्राम के पुलिस कमिश्नर नवदीप विर्क का रोहतक तबादला कर दिया गया। यानि अगर सीधे तौर पर कहा जाए तो तत्कालीन पुलिस कमिश्नर नवदीप विर्क को गुरुग्राम में महाजाम की सजा मिली। नवदीव विर्क की जगह संदीप खीरवार को गुरुग्राम का नया पुलिस कमिश्नर बनाया गया है।

हलांकी गुरुग्राम में जाम ने जिस तरह से विकराल रुप ले लिया उसमें कहीं न कहीं पुलिस की भूमिका भी संदेह के घेरे में है। क्योंकि घंटों जाम में फंसे लोगों का आरोप है कि प्रशासन की तरफ कोई दिखाई नहीं दिया। सड़क पर पुलिस की मौजूदगी ना के बराबर थी। जाम में फंसे एंबुलेंस को डिवाडर तोड़कर दूसरी तरफ निकाला गया। लेकिन जब ये सबकुछ हो रहा था तब ना तो कोई पुलिस वाला वहां था और ना ही ट्रैफिक पुलिस का कोई जवान। इसलिए यहां पुलिस को भी क्लीन चिट नहीं दी जा सकती। वो भी उस मुसीबत के लिए बराबर की जिम्मेदार है। क्योंकि अगर सड़क और नालों की रखरखाव की जिम्मेदारी निगम की है तो सड़क पर ट्रैफिक व्यवस्था सुचारु तरीके से चल सके इसकी जिम्मेदारी पुलिस की है।

लेकिन यहां ये सवाल भी बनता है कि क्या केवल पुलिस कमिश्नर का तबादला कर देने से समस्या खत्म हो गई? क्या अब भारी बारिश के बाद शहर में ट्रैफिक ठप नहीं होगा? क्या गुरुग्राम की समस्या के पीछे केवल विर्क ही जिम्मेदार थे? ये वो सवाल हैं जो आज अनसुलझे हैं। ये एक सच्चाई है कि जब विपदा दरवाजे पर पहुंच जाती है तब आप कितना भी जतन कर लें कितना भी हाथ पैर चला लें मुसीबत को टाल नहीं सकते। जनता को उस मुसीबत का शिकार होना ही पड़ेगा। क्योंकि मुसीबत न आए इसके लिए पहले से तैयारी नहीं की गई।

पड़ोसी राज्य की सरकार को जिम्मेदार ठहरा देना आसान है। ये कह देना आसान है कि दिल्ली में प्लाइओवर और सीवर नहीं बनी इसलिए गुड़गांव में जाम लगा। इस तरह के आरोप सच्चाई से भागने की कोशिश के सिवाय और कुछ नहीं है।

Loading...

Leave a Reply