गुरदासपुर के तमाचे की गूंज दूर तक सुनाई देगी- नवजोत सिद्धू

नई दिल्ली:  पंजाब के गुरदास लोकसभा सीट पर कांग्रेस की जीत पार्टी के लिए किसी संजीवनी से कम नहीं है। वहीं बीजेपी के लिए ये मायूस होने वाली खबर है। क्योंकि जिस सीट पर अबतक बीजेपी का कब्जा था वो उससे छिन गया। गुरदारपुर लोकसभा सीट पर कांग्रेस उम्मीदवार सुनील जाखड़ ने जीत हासिल की है। उन्होंने बीजेपी के सवर्ण सलारिया को 1 लाख 93 हजार 219 वोटों से हरा दिया।

इस जीत पर नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा ये कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के लिए लाल फीते में लिपटा खूबसूरत गिफ्ट है। साथ ही उन्होंने कहा गुरदासपुर में जो पंजा चला उस थप्पड़ की गूंज दूर तलक सुनाई देगी। उन्होंने कहा बिजेपी ने जिसे अपना उम्मीदवार बनाया था वो कांग्रेस के उम्मीदवार के सामने कहीं नहीं टिकते थे। उनके बीच कोई मुकाबला ही नहीं था। सिद्धू ने कहा यह जीजा-साले के चेहरे पर बड़ा तमाचा है। आज भाजपा यह समझ जाएगी कि अकाली दल पंजाब में बड़ा बोझ बन गई है।

सिद्धू का ये भरोसा वाजिब भी है। गुरदासपुर की ये सीट बीजेपी सांसद विनोद खन्ना की मृत्यु के बाद खाली हुई थी। जिसके बाद इस सीट पर हुए उपचुनाव में बीजेपी अपनी इस सीट को बचा पाने में नाकाम रही। और अब इस सीट पर कांग्रेस का कब्जा हो गया।

गुरदासपुर में कांग्रेस को ये जीत उस वक्त मिली है जब इसी साल हिमाचल में विधानसभा चुनाव होना है। और अगले कुछ दिनों में गुजरात में भी विधानसभा चुनाव का एलान होना है। हिमाचल में मौजूदा वक्त में कांग्रेस की सरकार है जबकि गुजरात में बीजेपी की सरकार है। बीजेपी अभी से इस बात का दावा कर रही है कि गुजरात की जीत इस बात कि परिचायक होगी कि जनता ने जीएसटी और नोटबंदी को स्वीकार कर लिया है।

लेकिन गुजरात में जिस तरह से बीजेपी खेमे में हलचल है उसके बाद इस बात से इनकार नहीं किया जा सकता है कि पार्टी के प्रदर्शन पर बीजेपी भी फिक्रमंद है। क्योंकि गुजरात में जनता को पार्टी की नीति और कामों के बारे में जानकारी देने के लिए पीएम मोदी के साथ साथ यूपी से सीएम योगी आदित्यनाथ को भी गुजरात में उतारा गया है।

Loading...