Gulbarg Society massacre

गुलबर्ग सोसाइटी केस में हुआ सजा का एलान

गुलबर्ग सोसाइटी केस में हुआ सजा का एलान

2002 के गुजरात दंगे के दौरान गुलबर्ग सोसाइटी में 69 लोगो की दंगाइयों ने हत्या कर दी थी। जिसमें कांग्रेस नेता एहसान जाफरी भी शामिल थे। अहमदाबाद कोर्ट ने दोषियों के लिए सजा का एलान करते हुए इसके 11 दोषियों को उम्र कैद की सजा सुनाई है, 12 दोषियों को 7 साल के कैद की सजा सुनाई है। जबकि 1 दोषी को 10 साल की कैद की सजा सुनाई है। सामाजिक कार्यकर्ता तीस्ता सीतलवाड़ ने कहा की कोर्ट के फैसले का स्वागत है लेकिन हम संतुष्ट नहीं हैं। 28 फरवरी 2002 को गुलबर्ग सोसाइटी पर दंगाइयों ने हमला किया था। जिसमें 69 लोगों की हत्या की गई थी। इनमें से 39 शव बरामद किये गए थे। बाकी के 30 लोगों को 7 साल के बाद मृत घोषित कर दिया गया। इस मामले की सुनवाई 2009 में शुरु हुई थी। जिसमें 66 आरोपी बनाए गए थे। जिनमें से 4 की मौत हो चुकी है। SIT ने 36 आरोपियों को बरी कर दिया था। कांग्रेस नेता एहसान जाफरी की पत्नी जाकिया जाफरी ने अदालत के फैसले पर कहा है कि जिस तरह से गुलबर्ग सोसाइटी में हत्या की गई उसके हिसाब से काफी कम सजा दी गई। 

Loading...

Leave a Reply