green-signal-for-new-passenger-policy-in-aviation-sector

विमान यात्रियों के आए अच्छे दिन, नई एविएशन पॉलिसी को कैबिनेट की मंजूरी

विमान यात्रियों के आए अच्छे दिन, नई एविएशन पॉलिसी को कैबिनेट की मंजूरी

केंद्रीय कैबिनेट ने नई Aviation Policy को मंजूरी दे दी है। नई नीति में हवाई सफर करने वाले यात्रियों के लिए कई फायदे वाली बातें हैं। नई नीति के मुताबिक अब हवाई टिकटों का cancellation fee बेस फेयर से ज्यादा नहीं होगा। यानि बेस फेयर से ज्यादा वसूली गई सारी रकम कंपनी ग्राहकों को वापस करेगी। ग्राहकों को इस नए नियम का जल्द फायदा मिल सके इसके लिए इस नियम को एक महीने के भीतर ही लागू भी किया जाएगा इसके अलावे भी कई और बातें हैं नई एविएशन पॉलिसी में

  • ओवर बुकिंग का हवाल देकर यात्रियों को बोर्डिंग से रोकने पर मुआवजे की राशि को बढ़ाकर 20 हजार रुपये तक कर दिया गया
  • मुसाफिर की मर्जी होगी की वो वापसी के पैसे लेंगे या फिर उसे एयरलाइंस कंपनियों के पास ही बकाया छोड़ दे
  • प्रोमो और स्पेशल फेयर्स समेत सभी तरह के किराये पर वापसी का नियम लागू होगा
  • कैंसिलेशन अमाउंट बेसिक फेयर से ज्यादा नहीं होगा और refund processing के नाम पर एक्सट्रा पैसे नहीं वसूल पाएंगे
  • नो शो या कैंसिलेशन के मामले में सभी तरह के टैक्स, लेवी और यूजर/ airport development charge वापस होंगे।
  • ट्रैवल एजेंट या ऑनलाइन पोर्टल से बुक हुए टिकटों पर एयरलाइंस को domestic passengers को 15 दिनों में रिफंड देना होगा
  • 15 किलो के बैगेज के बाद 5 किलो तक के वजह के लिए 100 रु. प्रति किलो से ज्याद चार्ज नहीं किए जाएंगे।
  • दिव्यांगों के लिए सुविधाओं में महत्वपूर्ण सुधार के लिए नियमों में बदलाव हो रहा है
  • उड़ान के वक्त से 24 घंटे के भीतर फ्लाइट कैंसल होने पर मुआवजा राशि बढ़कर 10 हजार रुपये तक होगी।

एयरलाइंस कंपनियों के लिए भी कैबिनेट फैसला लिया है।

विदेश में उड़ान के लिए 5 साल का अनुभव जरुरी होगा। वहीं कम से कम 20 विमान वाली कंपनि को विदेश में उड़ान भरने की इजाजत होगी।

Loading...

Leave a Reply