ग्रेटर नोएडा डबल मर्डर: नाबालिग बेटे ने वीडियो गेम के लिए कर दी मां और बहन की हत्या!

नई दिल्ली:  एनसीआर में ग्रेटर नोएडा गौर सिटी में 5 दिसंबर को डबल मर्डर की वारदात हुई थी। पुलिस ने इस मर्डर मिस्ट्री को तकरीबन सुलझा लिया है। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक महिला और उसकी बेटी का कातिल कोई और नहीं बल्कि उस महिला का 15 साल का बेटा ही है। उस नाबालिग बेटे को पुलिस ने वाराणसी के दशास्वमेघ घाट से हिरासत में लिया है।

वारदात के बाद से ही 15 साल का महिला बेटा लापता था। गौर सोसाइटी में लगे सीसीटीवी में उसे अकेले वारदात वाली रात को सोसाइटी से बाहर जाते हुए देखा जा रहा है। सुबह जब ये मामला सामने आयो तो उस बच्चे को फरार पाया गया। उसके बाद से ही ये शक जताया जा रहा था का अपनी मां और बहन का कातिल वो नाबालिग भी हो सकता है।

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक पुलिस की पूछताछ में आरोपी बच्चे ने अपना जुर्म कबूल कर लिया है। हलांकि इस बारे में अभी पुलिस की तरफ से कोई बयान नहीं दिया गया है। पुलिस ने मृतका अंजली के फरार चल रहे 15 साल के बेटे को वाराणसी से हिरासत में लिया। पुलिस ने नाबालिग के पास से उसका फोन भी बरामद कर लिया है। वारदात के बाद उसकी आखिरी लोकेशन दिल्ले चांदनी चौक ट्रेस की गई थी। लेकिन उसके बाद से उसका मोबाइल फोन स्विच ऑफ था।

पुलिस सूत्रों के मुताबिक बच्चे ने ही दोनों की हत्या की। इस हत्या के पीछे क्राइम फाइटर गेम को वजह बताया जा रहा है। कहा जा रहा है कि उसकी मां उसे इस तरह के गेम खेलने से मना करती थी। इसलिए उससे उसका मोबाइल फोन भी ले लिया गया था। लेकिन बाद में आरोपी लड़के ने अपना मोबाइल वापस ले लिया। आरोपी ने बैट से पीट पीट कर दोनों की हत्या की थी। दोनों के शव बेडरूम में कंबल से ढके मिले थे।

जिस रात ये वारदात हुई उस वक्त गौर सिटी टू के टावर ‘G’ के फ्लैट नंबर 1446 में तीन लोग मौजूद थे। वो फ्लैट अग्रवाल फैमिली का है। 4 दिसंबर की शाम को परिवार के लोग घर में मौजूद मां और बच्चों से संपर्क करने की कोशिश की। लेकिन जब संपर्क नहीं हुआ तो उन्होंने गौर सिटी में इनके पड़ोस में रहनेवाले अपने रिश्तेदारों को फोन किया। जब रिश्तेदार फ्लैट पर पहुंचे तो वहां बाहर से ताला बंद था और न्यूज पेपर बाहर पड़ा था। जिसके बाद इसकी जानकारी पुलिस को दी गई।

जब पुलिस मौके पर पहुंची और दरवाजा खोला गया तो अंदर मां और बेटी की खून से सनी लाश बिस्तर पर पड़ी थी। उनकी हत्या बड़ी बेरहमी से की गई थी। पास ही एक बैट भी पड़ा था जो खून से सना थ। उसी जगह पर एक धारदार हथियार भी मिला था। लेकिन उनका 15 साल का बेटा लापता था।

Loading...