बाबुओं को केजरीवाल ने दी चेतावनी

बाबुओं को केजरीवाल ने दी चेतावनी

  • केजरीवाल ने किनसे नौकरी छोड़ने को कहा
  • केजरीवाल ने की अगले 15 साल की भविष्यवाणी

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने एक बार फिर सरकारी बाबुओं को सख्त चेतावनी दी है। इसबार सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा की जिन अधिकारियों को राजनीति करनी है वो नौकरी छोड़ दें। और चुनावी मैदान में आ जाएं। हम मुकाबले के लिए तैयार हैं। बाबुओं को तो सीएम ने चेतावनी दे दी। लेकिन साथ ही अगले 15 साल की भविष्यवाणी भी कर दी । उन्होंने कहा की अगले 15 साल तक दिल्ली में आम आदमी पार्टी की सरकार रहेगी। ये केवल एक भविष्यवाणी नहीं थी। दरअसल इसके पीछे एक पूरी योजना दिखाई दे रही है।
अब सवाल ये उठता है कि आखिर 15 साल तक दिल्ली में शासन करने की भविष्यवाणी के पीछे क्या वजह हो सकती है ? एक तो ये वजह हो सकती है कि वो अधिकारियों को ये बताना चाह रहे थे कि जो अधिकारी उनके साथ सहयोग नहीं कर रहे हैं वो ये न सोचें की दिल्ली में आम आदमी पार्टी की सरकार केवल 5 साल के लिए आई है। और 5 साल बाद उनकी कहानी खत्म हो जाएगी। ये तो एक बात हुई। दूसरी बात ये भी हो सकती है कि दिल्ली में जिस तरह से बीजेपी कमजोर हुई है और कांग्रेस का पूरी तरह से सफाया हुआ है उसमें उनके सामने ये दल तकरीबन 15 साल तक कोई चुनौती पेश करने की हालत में नहीं होंगे।
अधिकारियों को इस चुनौती और नसीहत की वजह क्या थी ये भी सीएम की बातों से साफ हो गया। दरअसल 31 दिसंबर को दिल्ली में जिस तरह से आईएएस और दानिक्स अधिकारी हड़ताल पर चले गए थे उसे केजरीवाल ने राजनीतिक साजिश करार दिया। इसबार उन्होंने पार्टी का नाम तो नहीं लिया लेकिन इतना जरुर कह दिया की उस हड़ताल के पीछे एक पार्टी शामिल थी।
दिल्ली में जबसे आम आदमी पार्टी की सरकार बनी है उसके बाद से जिस तरह के हालात दिखाई देते रहे हैं उसने ये जरुर बता दिया कि अधिकारी आपस में दो खेमों में बंटे हुए हैं। जिसमें एक खेमा दिल्ली सरकार यानि केजरीवाल के साथ है जबकी दूसरा खेमा उप राज्यपाल के पक्ष में। इसकी वजह है दिल्ली का संवैधानिक ढांचा। जिसमें दिल्ली सरकार के पास सीमित अधिकार हैं। लेकिन सरकार अपने अधिकार क्षेत्र को बढ़ाने की जद्दोजहद करती रही है। यही कोशिश टकराव की वजह भी है। अधिकारियों के सामने मुश्किल ये है कि वो दिल्ली सरकार की सुनें या उप राज्यपाल की। क्योंकि दोनों तरफ से निर्देश दिये जाते हैं। जो अक्सर अलग अलग होते हैं। कुल मिलाकर दिल्ली सरकार और उप राज्यपाल के बीच की आपस की लड़ाई ने अधिकारियों की मुश्किल बढ़ा दी है।

 

AAPVideo (@AAPVideo) tweeted at 7:35 PM on Tue, Apr 19, 2016:
CM Sh. Arvind Kejriwal’s speech on Civil Services Day. https://t.co/tncKF61dbs #AAP
(https://twitter.com/AAPVideo/status/722425812314562560)

Loading...

Leave a Reply