गोरखपुर मेडिकल कॉलेज में 48 घोंटों में 32 नवजात बच्चों की मौत

लखनऊ:  गोरखपुर मेडिकल कॉलेज के बाहर लोगों की भीड़ लगी है। यहां पिछले 48 घंटों में 32 नवजात बच्चों की मौत हो गई है। बताया जा रहा है कि ऑक्सीजन की सप्लाई ठप होने की वजह से बच्चों की मौत हुई है। मरनेवाले में 13 बच्चे एनएनयू वार्ड में भर्ती थे और 19 बच्चे इंसेफेलाइटिस वार्ड में भर्ती थे।

शुरुआती जानकारी के मुताबिक अस्पताल पर ऑक्सीजन सप्लाई करनेवाली कंपनी का 69 लाख रुपये की देनदारी थी। बकाया नहीं देने की वजह से गुरुवार रात को कंपनी ने ऑक्सीजन की सप्लाई रोक दी। जिसके बाद ये सबकुछ हुआ। कहा तो ये भी जा रहा है कि पिछले 5 दिनों में 60 बच्चों की मौत हो चुकी है। हलांकी अस्पताल प्रशासन ऑक्सीजन सप्लाई ठप होने को मौत की वजह नहीं मान रहा है।

सौजन्य- आज तक वेबसाइट

अस्पताल में नवजात बच्चों के इस तरह से दम तोड़ने के बाद सवाल योगी सरकार से भी किये जा रहे हैं। दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने कहा योगी सरकार इतिहास को ऑक्सीजन दे रही है और भविष्य का गला घोंट रही है। चार कांग्रेसी नेता भी गोरखपुर का दौरा करेंगे। जिनमें गुलाम नबी आजाद, राज बब्बर, संजय सिंह और प्रमोद तिवारी शामिल होंगे।

राज्य सरकार के स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह और चिकित्सा शिक्षा मंत्री आशुतोष टंडन भी गोरखपुर जाएंगे। केंद्रीय मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति ने कहा केंद्र सरकार ने इसकी चर्चा की है कि ऐसी घटना दोबारा ना घटे। ऑक्सीजन की जो कमी हुई है उस मामले की जांच होनी चाहिए और कार्रवाई होनी चाहिए।

Loading...

Leave a Reply