गोपाल राय का परिवहन मंत्रालय से इस्तीफा…सतेंद्र जैन नए परिवहन मंत्री

दिल्ली सरकार के परिवहन मंत्री गोपाल राय अब पूर्व परिवहन मंत्री हो गए हैं। गोपाल राय की जगह परिवहन मंत्रालय की जिम्मेदारी सतेंद्र जैन को दी गई है। अचानक नहीं लिया गया है ये फैसला। पिछले काफी दिनों से इस तरह की चर्चा जोरों पर थी कि गोपाल राय परिवहन मंत्रालय से अलग हो सकते हैं। इसके पीछे गोपाल राय ने दलील दी थी कि खराब सेहत की वजह से वो परिवहन मंत्रालय का कामकाज नहीं देख पा रहे हैं। जिस वजह से वो परिवहन मंत्रालय छोड़ना चाहते हैं।

परिवहन मंत्रालय छोड़ने के बाद अब गोपाल राय के पास रोजगार, विकास, श्रम, खाद्य और सिंचाई मंत्रालय है। हलांकि परिवहन मंत्रालय से गोपाल राय की इस विदाई के पीछे एक वजह प्रीमियम बस मामले में एसीबी की तरफ की जा रही जांच भी बताया जा रहा है। इस मामले में गोपाल राय को भी पूछताछ के लिए एसीबी ने बुलाया है। विपक्ष की तरफ से इस मामले को लेकर गोपाल राय पर घोटाले का आरोप लगाय गया। जिसके जवाब में गोपाल राय ने कहा था अगर जांच में दोषी पाया गया तो इस्तीफा दे दूंगा।

जहां तक गोपाल राय की सेहत का सवाल है तो हाल में ही गोपाल राय की सर्जरी हुई थी। जिसमें सालों से उनकी पीठ मे फंसी गोली को बाहर निकाला गया था। लेकिन उस ऑपरेशन के बाद भी उन्हें लगातार रुटीन चेकअप के लिए अस्पताल जाना पड़ता है। जिस वजह से वो मंत्रालय के कामकाज को सही तरीके से नहीं कर पा रहे हैं। इसी वजह से उन्होंने परिवहन मंत्रालय से मुक्ति की इच्छा जताई थी।

हलांकी सूत्र बताते हैं कि परिवहन मंत्रालय का कामकाज काफी दिनों से सीएम अरविंद केजरीवाल का कोई करीबी संभाल रहा है। जिसकी वजह से गोपाल राय नाराज चल रहे थे। यही वजह रही की उन्होंने खुद को परिवहन मंत्रालय से अलग कर लिया। खैर वजह जो भी हो लेकिन अब दिल्ली की सड़कों पर बस और गाड़ी दौड़ाने की जिम्मेदारी सतेंद्र जैन संभालेंगे।

Loading...

Leave a Reply