sunder-pichai-google-ceo

Google में इंटरव्यू दे रहे थे CEO सुंदर पिचाई लेकिन gmail के बारे में पता नहीं था

Google में इंटरव्यू दे रहे थे CEO सुंदर पिचाई लेकिन gmail के बारे में पता नहीं था




नई दिल्ली: गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई गुरुवार को IIT खड़गपुर पहुंचे थे। सुंदर पिचाई ने IIT खड़गपुर से ही पढ़ाई की थी। इसलिए छात्रों को संबोधित करने पहुंचे थे। सबसे पहले सुंदर को कुछ पुरानी तस्वीर दिखाई गई। सुंदर ने उन तस्वीरों में दिख रहे अपने सभी पुराने दोस्तों को पहचान लिया।

सुंदर से जब मॉर्निंग क्लास बंक करने के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि ‘हां मैंने मॉर्निंग क्लास बंक की है।‘ लेकिन सुंदर ने बाकी छात्रों से कहा कि ‘आप मेहनत करें।‘ पिचाई ने आगे कहा ‘मैंने स्कूल में हिंदी पढ़ी तो थी लेकिन ज्यादा बोल नहीं पाता था, चेन्नई से आया था। यहां दूसरे छात्रों को देख हिंदी बोलने की कोशिश करता था। एक दिन मैंने एक आदमी को अबे साले बोल दिया था और उस वक्त सब हंसने लगे थे। क्योंकि मुझे यही लगता था कि लोगों को हिंदी में ऐसे ही बुलाते हैं।‘

सुंदर ने कहा कि ‘बच्चों को इस तरह से रास्ता दिखाना चाहिए कि उसकी उम्मीदें खत्म न हों, जिंदगी को बड़े नजरिये से देखना चाहिए।‘

IIT खड़गपुर में छात्रों के साथ मुलाकात में सुंदर पिचाई ने एक बेहद ही दिलचस्प बात बताई। उन्होंने कहा 1 अप्रैल 2004 को गूगल में उनका इंटर्व्यू हुआ था। ‘उस दिन अप्रैल फूल डे था और गूगल ने जीमेल का कंसेप्ट बताया था। तीन इंटर्व्यू में तो मैंने ठीक उत्तर नहीं दिये थे क्योंकि मुझे नहीं पता था कि जीमेल क्या है। चौथे इंटर्व्यू में उन्होंने मुझे जीमेल दिखाया तो मैंने उसके बारे में बताया कि किस तरह जीमेल को और बेहतर बनाया जा सकता है।‘

सुंदर से उनकी पत्नी को लेकर भी सवाल किये गए। उनसे पूछा गया कि वो अपनी पत्नी से कहां मिले थे। इसके जवाब में सुंदर ने कहा ‘अंजलि मेरी पत्नी है और वो मुझे यहीं मिली थी। वो गर्ल्स होस्टल में रहती थी।‘

Loading...

Leave a Reply