गूगल के फ्री ट्रेनिंग कोर्स में आप भी हो सकते हैं शामिल, घर बैठे करें कोर्स

गूगल के फ्री ट्रेनिंग कोर्स में आप भी हो सकते हैं शामिल, घर बैठे करें कोर्स

नई दिल्ली:  गुगल के बारे में जितना आप सोच सकते हैं ये उससे काफी ज्यादा है ये गूगल। आमतौर पर गूगल को केवल एक सर्च इंजन से जोड़कर देखा जाता है। लेकिन ऐसा नहीं है। क्योंकि सर्च इंजन केवल गूगल का एक हिस्सा है पूरा गूगल नहीं। गूगल ने भारत में गुरुवार को स्कॉलरशिप प्रोग्राम की शुरुआत की है। जिसमें देशभर से 1 लाख 30 हजार छात्रों को स्किल ट्रेनिंग दी जाएगी। वो भी बिल्कुल मुफ्त। गूगल 1 लाख स्कॉलरशिप प्लूरलसाइट टेक्नॉलॉजी लर्निंग कर्रिकुलम पर स्कॉलरशिप देने का एलान किया है। जबकि 30 हजार स्कॉलरशिप उडासिटी पर दिया जाएगा।

इसमें खास बात ये है कि गूगल के इस ऑनलइन कोर्स को कोई भी ज्वाइन कर सकता है। इसे ज्वाइन करने के भी पैसे नहीं लगेंगे। गगूल की तरफ से दिल्ली में आयोजित कार्यक्रम में जानकारी दी गई कि इसमें ज्वाइन करने वाला व्यक्ति घर बैठे ही इस कोर्स के काबिल है। इस कोर्स में मोबाइल और डेवलपमेंट, मशीन लर्निंग, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, वर्चुअल रियलिटी और क्लाउड प्लेटफॉर्म को शामिल किया गया है। गूगल का मानना है कि इस तरह के कोर्स से छात्रों में स्किल डेवलप होगा और वो नौकरी भी पा सकेंगे।

गूगल डेवेलपर प्रोडक्ट्स ग्रुप और स्किलिंग लीड इंडिया के हेड विलियल फ्लोरेंस ने कहा पिछले एक साल से हम अलग अलग प्रोग्राम के जरिये भारत के पांच लाख छात्रों और डेवेलपर्स के साथ काम कर रहे हैं। हम भारत में स्किलिंग इनिशिएटिव का एलान कर रहे हैं और 2 लाख 10 लाख छात्रों ने गूगल द्वारा डेवेलप किये गए कोर्स को उडासिटी के जरिये पूरा किया है।

इस मौके पर उडासिटी इंडिया के मैनेजिंग डायरेक्टर इशान गुप्ता ने कहा गूगल के साथ हमारी साझेदारी भारतीयो को जॉब करने के लिए तैयार करने में बड़ा कदम है। कोर्स का पहला फेस फ्री है। इनमें टॉप 1000 छात्रों को एक्सट्रा स्कॉलरशिप दी जाएगी।

गूगल के इस कोर्स के लिए हर भारतीय योग्य है। लेकिन जिन्हें प्रोग्रामिंग की बेसिक जानकारी होगी उनके लिए ये काफी फायदेमंद होगा। ये कोर्स ऑनलाइन हैं और इंटरनेट के जरिये छात्र खुद को रजिस्टर करा सकते हैं। वेबसाइट पर छात्र मनचाहा कोर्स चुन सकते हैं। पढ़ाई पूरी होने के बाद छात्रों को सर्टिफिकेट भी दिया जाएगा। इसमें साइंस, आर्ट्स या कॉमर्स स्ट्रीम के छात्र भी शामिल हो सकते हैं।

Loading...

Leave a Reply