रमजान में लड़की में पहनी थी शॉर्ट स्कर्ट तो लड़के ने जड़ दिया थप्पड़, देखें वीडियो

नई दिल्ली:  तुर्की के इस्तांबुल में एक लड़की बस में शांति से बैठकर सफर कर रही थी। तभी उसके पीछे वाली सीट पर बैठा एक युवक उठता है और उसने लड़की को तमाचा जड़ दिया। अचानक एक अनजान शख्स की इस हरकत पर लड़की को गहरा सदमा लगा। खुद को किसी तरह से संभालने के बाद लड़की भी थप्पड़ मारने वाले उस लड़के पर लपकती है। लेकिन लड़की को जोर का धक्का दे दिया जाता है। जिसके बाद लड़की बस में एक तरफ जाकर गिर जाती है। जिसके बाद मौका देखकर लड़का बस से उतर कर चला जाता है। ये घटना इस्तांबुल के पेनडिक जिले की है।

जिस लड़की को थप्पड़ मारा गया उसका नाम असीना मिलिसा सगलाम है। और उनकी उम्र 21 साल की है, वो कॉलेज में पढ़ती है। असीना पर हमला करनेवाला शख्स की पहचान इरकान किजीलेट्स के तौर पर हुई है। इरकान ने असीना को इसलिए थप्पड़ मारा क्योंकि उसने रमजान के महीने में स्कर्ट पहन रखी थी। इसी बात पर इरकान ने असीना पर हमला कर दिया। और उसे थप्पड़ जड़ दिया।

लेकिन असीना भी ऐसे मौके पर घबराई नहीं और उसने अपने ऊपर हमला करनेवाले इरकान को सबक सिखाना चाहा। लेकिन इरकान ने असीना का गला दबा दिया और उसे बालों से खींचकर बस में जोर का धक्का दे दिया। जिसके बाद वो गिर पड़ी। बस में सवार दूसरे लोग इससे पहले कि कुछ समझ पाते इरकान वहां से फरार हो गया।

हलांकि बाद में हमलावर इरकान को पकड़ लिया गया। लेकिन शुरुआती पूछताछ के बाद उसे छोड़ दिया गया। इरकान से जब पूछा गया कि उसने ऐसा क्यों किया तो उसने कहा लड़की ने काफी छोटे कपड़े पहन रखे थे इसलिए उसने उसे थप्पड़ मारा। इरकान की इस दलील के बाद उसे रिहा कर दिया गया। सोशल मीडिया पर इसकी काफी निंदा हो रही है।

इस घटना के बाद तुर्की में ये मांग उठने लगी है कि रमजान के महीने में लड़कियों और महिलाओं के पहनावे के लिए खास नियम बनाए जाएं। ताकि महिलाएं शरीर को ढक कर रखें खासकर रमजान के महीने में। हलांकि कई संगठन इस मांग का विरोध भी कर रहे हैं।

हलांकि भारत में भी इस तरह की बात होती रहती है। कुछ दिनों पहले ही दंगल गर्ल फातिमा सना शेख ने बिकनी में अपनी फोटो पोस्ट की थी। जिसके बाद कुछ कट्टरपंथियों ने इसका विरोध किया था। और कहा था रमजान के महीने में इस तरह की फोटो खिंचवाना सही नहीं है।

Loading...