nareder-modi-nsg

विदेशी निवेशकों के आए अच्छे दिन, रक्षा, एविएशन, ब्रॉडकास्टिंग में 100% FDI को मंजूरी

विदेशी निवेशकों के आए अच्छे दिन, रक्षा, एविएशन, ब्रॉडकास्टिंग में 100% FDI को मंजूरी

FDI पर मोदी सरकार ने बड़ा फैसला किया है। सरकार ने कई अहम सेक्टरों में 100% FDI को मंजूरी दे दी है। सरकार ने रक्षा के क्षेत्र में 100% FDI को मंजूरी दे दी है। सरकार यहीं नहीं रुकी इसके साथ साथ सिविल एविएशन में भी सरकार की तरफ से 100% FDI को हरी झंडी दे दी गई। ब्रॉडकास्टिंग के क्षेत्र में भी सरकार ने 49% FDI को बढ़ाकर 100% कर दिया है।

सरकार ने जहां FDI के क्षेत्र में बड़ा फैसला लिया है तो वहीं FDI की कुछ सीमा भी तय की है। रक्षा क्षेत्र में आर्म्स एक्ट 1959 के मुताबिक छोटे हथियार और उसके पार्ट्स में ही FDI लागू होगा। वहीं सिविल एविएशन में ब्राउनफिल्ड एयरपोर्ट प्रोजेक्ट (वैसे तैयार प्रोजेक्ट जिसे खरीदकर सरकार या कंपनियां नए सिरे से काम शुरु करती हैं) के लिए 100% FDI को मंजूरी मिल गई। पहले इस सेक्टर में 49 फीसदी विदेशी निवेश की ही अनुमति थी। इसके अलावे सिक्योरिटी एजेंसियों में FDI की सीमा 49 फीसदी कर दी गई है। हलांकि इस सेक्टर में 49 फीसदी से 74 फीसदी विदेशी निवेश के लिए सरकार की अनुमति लेनी होगी।

मोदी सरकार ने फूड प्रोजेक्ट बनाने समेत ऑनलाइन व्यापार में भी FDI को मंजूदी दी है। इसके साथ ही डीटीएच, मोबाइल टीवी, केबल नेटवर्क व्यापार में भी FDI का रास्ता साफ हो गया है। फार्मा सेक्टर में ग्रीनफिल्ड और ब्राउनफिल्ड दोनो में ऑटोमेटिक रुट से पूरी तरह FDI को मंजूरी मिल गई है।
एनिमल हस्बेंडरी में नियंत्रित पर 100% FDI को मंजूरी दे दी गई है। वहीं सिंगल ब्रांड खुदरा कारोबार के नियोमों में ढील देते हुए तीन और पांच सालों के लिए टेक्नोलॉजी प्रोडक्ट में पहले से 49 फीसदी FDI को बढ़ाकर 100% कर दिया गया है।

मोदी सरकार की तरफ से FDI पर ये ऐतिहासिक फैसला तब लिया गया है जब ये कहा जा रहा है कि रघुराम राजन के आरबीआई के गवर्नर पद पर नहीं रहने से विदेशी निवेशक मायूस हो सकते हैं। सरकार का ये कदम इन सारी संभावनाओं को भी विराम देता है। सरकार ने अपने इस फैसले से विदेशी निवेशकों को ये संदेश देने की कोशिश की है कि राजन के जाने के बाद भी सुधारों का दौर थमेगा नहीं।

Loading...

Leave a Reply