Asaduddin-Owaisi

बीजेपी के लिए बीफ यूपी में ममी और नॉर्थ ईस्ट में यमी- ओवैसी

बीजेपी के लिए बीफ यूपी में ममी और नॉर्थ ईस्ट में यमी- ओवैसी

नई दिल्ली: बीफ को लेकर सियासत गरमा गई है। यूपी में योगी सरकार ने सभी अवैध बूचड़खानों को बंद करने का आदेश दिया है। उसके बाद से एकबार फिर बीफ और गाय राजनीति के केंद्र में है। बीफ को लेकर बीजेपी के दोहरे रवैये पर ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुसलमीन यानि AIMIM के मुखिया और लोकसभा सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने बीजेपी की दोहरी नीति पर सवाल उठाए हैं।

ओवैसी ने कहा कहा है कि यूपी में बीजेपी के लिए गाय ममी है और पूर्वोत्तर में यमी है। ओवैसी ने आगे कहा भारत भैंस का मीट एक्सपोर्ट करके 26 हजार करोड़ रुपये पाता है। इसमें से यूपी की हिस्सेदारी 11 हजार करोड़ रुपये है। भारत सरकार भैंस के मीट के एक्सपोर्ट को बढ़ावा देती है। यहां इस किस्म के विरोधाभास हैं। यूपी में गाय ममी है जबकि नॉर्थ ईस्ट में यमी है। उन्होंने पूछा क्या ये बीजेपी का पाखंड नहीं है?

ये भी पढें :

-अंडा खरीदने से पहले उसकी जांच कर लें, कहीं प्लास्टिक का तो नहीं है

-EVM की गड़बड़ी आई सामने, बटन समाजवादी पार्टी का दबाया लेकिन वोट BJP को गया

ओवैसी ने कहा बीजेपी वहीं हिंदुत्व का प्रचार करती है जहां यह उसके मनमुताबिक होता है। नॉर्थ ईस्ट के तीन राज्यों में चुनाव होने हैं। इस कारण से बीजेपी वहां बीफ पर रोक नहीं लगा रही है। नॉर्थ ईस्ट के तीन राज्य असम, मेघालय और मणिपुर में बीजेपी सत्ता में है लेकिन वहां बीफ पर प्रतिबंध नहीं लगाया गया है। अवैध बूचड़खानों पर भी वहां अभी तक कार्रवाई नहीं की गई है। इसी को लेकर राजनीतिक विरोधी सवाल पूछ रहे हैं।

अगले साल मिजोरम समेत तीन उत्तरपूर्व के राज्य में चुनाव होना है। बीजेपी ने अभी से साफ कर दिया है कि अगर वह सत्ता में आती है तो बीफ पर पाबंदी नहीं लगाई जाएगी। मिजोरम में बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष जीवी हुमा से जब बीफ प्रतिबंध पर सवाल किया गया तो उन्होंने कहा मुझे पूरा विश्वास है कि राज्य में ऐसा कोई प्रतिबंध नहीं लगेगा। केवल स्वास्थ्य कारणों से कुछ बूचड़खानों पर बैन लगाया गया है। बिना इजाजत के कुछ लोग गलियों में बूचड़खाना चला रहे थे। लेकिन अगर बीजेपी यहां सत्ता में आती है तो भी किसी तरह का बैन नहीं लगाया जाएगा।

Loading...

Leave a Reply