पीपली लाइव के सह-निर्देशक महमूद फारूकी को 7 साल की सजा

दिल्ली: फिल्म पीपली लाइव के सह-निर्देशक महमूद फारूकी को रेप केस में सजा सुना दी गई है। दिल्ली की साकेत कोर्ट ने फारूकी को 7 साल की कैद और 50 हजार रुपये जुर्माने की सजा सुनाई है।

फारुकी 35 साल की अमेरिकन रिसर्चर से रेप के दोषी पाए गए थे। ये मामला दिल्ली का ही था। हादसे के बाद पीड़ित महिला अमेरिका वापस लौट गई थी। लेकिन बाद में वो वापस दिल्ली लौटी और फारुकी के खिलाफ रेप का केस दर्ज करवाया था। पीड़ित महिला अमेरिका की कोलंबिया यूनिवर्सिटी से पीएचडी कर रही थी। और रिसर्च के सिलसिले में भारत आई थी। पीड़ित लड़की ने फारूकी के खिलाफ 28 मार्च 2015 को दिल्ली के न्यू फ्रेंड्स कॉलोनी थाने में शिकायत दर्ज कराई गई थी। आरोप में कहा गया था कि फारूकी ने 28 मार्च 2015 को दिल्ली के सुखदेव विहार के अपने घर में उसका रेप किया। महिला की शिकायत के बाद पुलिस ने जांच शुरु की और 20 जून को फारूकी को न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया। पीड़ित महिला को गोरखपुर के एक दोस्त ने फारूकी से मिलवाया था। फारूकी ने रिसर्च में काम आने वाला मटेरियल मुहैया कराने की बात कही थी।

Loading...