फारुख अब्दुल्ला बोले ‘भारत माता की जय’ तो कश्मीरियों ने कहा ‘मस्जिद से बाहर निकलो’

नई दिल्ली:  पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी की श्रद्धांजलि सभा में नेशनल कांफ्रेंस के प्रमुख फारूख अब्दुल्ला ने भारत माता की जय के नारे लगाए थे। लेकिन ये नारा लगाकर फारुख फंस गए। बुधवार को बकरीद के मौके पर उन्हें कश्मीरियों के विरोध का सामना करना पड़ा। हजरत बल दरगाह में जब वो नमाज पढ़ने गए तो उनके खिलाफ नारे लगाए गए। लोग उनके खिलाफ फारूख शर्म करो के नारे लगाए।

बात केवल फारुख विरोधी नारों तक ही नहीं रही। वहां मौजूद लोगों ने फारुख को मस्जिद से बाहर निकल जाने के लिए कहा साथ ही कई लोगों ने अपने हाथों में जूते भी उठा लिये। लेकिन चुकी उनके आसपास सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम थे इसलिए किसी तरह की अनहोनी नहीं हुई।

इन तमाम विरोधों के बीच में फारुख चुपचाप वहां पर एक कुर्सी पर बैठे रहे। शायद विरोध करनेवाले लोगों को अपने ऊपर हावी होता देख उन्होंने ऐसा करने का फैसला लिया हो। पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी की श्रद्धांजलि सभा में फारुख ने उन्हें हिंदुस्तानियों के दिल का हीरो बताते हुए उनके रास्ते पर चलने की बात कही थी।

बकरीद के दिन भी जम्मू कश्मीर के कई इलाकों में पत्थरबाजी हुई। आतंकियों ने दो लोगों की हत्या कर दी। श्रीनगर में बुधवार को नमाज पढ़ने के बाद सेना पर पत्थरबाजी की गई। इसी दौरान पाकिस्तान और आईएसआईएस के झंडे भी लहराए।

Loading...