रेप का आरोपी फलाहारी बाबा गिरफ्तार, राजनीतिक रसूख देखकर रह जाएंगे दंग

नई दिल्ली:  अलवर पुलिस ने रेप के आरोप में एक और बाबा को गिरफ्तार किया है। इसबार फलाहारी बाबा का नंबर लगा है। फलाहारी बाबा पर छत्तीसगढ़ के बिलासपुर की रहनेवाली एक लड़की ने रेप का आरोप लगाया था। इस मामले के सामने आने के बाद फलाहारी बाबा अलवर के एक निजी अस्पताल में तबीयत खराब होने का बहाना कर भर्ती हो गया था।

लेकिन आज फलाहारी बाबा को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई। जिसके बाद वो एक सरकारी अस्पताल में भर्ती हो गया। जहां डॉक्टरों की तरफ से गठित मेडिकल बोर्ड ने फलाहारी बाबा के सेहत की जांच की। जिसमें सबकुछ सही पाया गया। जिसके बाद पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया। फलाहारी बाबा ने लड़की के साथ रक्षा बंधन वाले दिन बलात्कार किया था।

पीड़ित लड़की के मुताबिक उसे उस दिन पहली सैलरी के तौर पर 3000 रुपये मिले थे। जिसके बाद लड़की अपनी पहली सैलरी फलाहारी बाबा को भेंट स्वरूप देने के लिए आई थी। इसके बाद बाबा ने उसे प्रसाद दिया। पीड़ित लड़की का कहना है कि प्रसाद खाने के बाद वो अर्ध बेहोशी की हालत में आ गई। जिसके बाद उसका खुद उसी के ऊपर नियंत्रण नहीं रहा।

इसके बाद बाबा ने उसकी इस हालत का फायदा उठाकर उसके साथ यौन उत्पीड़न किया। बाबा का प्रसाद खाने की वजह से वो काफी कुछ महसूस कर रही थी लेकिन उसकी हालत ऐसी नहीं थी कि वो इसका विरोध कर सके। इसके बाद लड़की काफी दिनों तक बदनामी की वजह से खामोश रही। दूसरी तरफ बाबा के राजनीतिक रसूख की वजह से भी वो डरी हुई थी।

लेकिन राम रहीम के जेल जाने के बाद उसने फलाहारी बाबा के खिलाफ शिकायत करने की हिम्मत जुटाई। जिसके अलवर पुलिस ने फलाहारी बाबा उर्फ बाबा कौशलंद्र को गिरफ्तार कर लिया है। इस फलाहारी बाबा के सियासी रसूख को देखकर किसी की हिम्मत नहीं होती थी इसके खिलाफ मुंह खोलने की।

संघ प्रमुख मोहन भागवत से लेकर, मध्य प्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान, राजस्थान की सीएम वसुंधरा राजे सिंधिया, गृह मंत्री राजनाथ सिंह जैसी बड़ी सियासी हस्तियों के साथ तस्वीर सामने आ चुकी है। यही वजह है कि पुलिस भी इस मामले में फूंक-फूंक कर कदम बढ़ा रही है।

Loading...

Leave a Reply