Video में देखें मध्य प्रदेश के भींड में कैसे सामने आई EVM की गड़बड़ी

नई दिल्ली: यूपी चुनाव में बीजेपी को मिली बंपर जीत के बाद EVM की प्रमाणिकता पर सवाल उठाए जा रहे थे। बीजेपी को छोड़कर बाकी राजनीतिक दलों की तरफ से दावा किया जा रहा था कि EVM के साथ छेड़छाड़ की गई। हलांकि राजनीतिक दलों के इस दावे को चुनाव आयोग ने खारिज कर दिया था। चुनाव आयोग का कहना है कि EVM की चिप के साथ छेड़छाड़ संभव नहीं है।

लेकिन मध्यप्रदेश के भींड जिले में EVM में लगे VVPAT के डोमो के वक्त जो परची निकली उसने पुराने सवालों को एक बार फिर से ताजा कर दिया। भींड में VVPAT यानि वोटर वेरीफाइड पेपर ऑडिट ट्रायल का यहां डेमो किया गया। उसी क्रम में जब EVM का बटन दबाया गया तो पर्ची बीजेपी की निकली। दूसरी बार जब दूसरा बटन दबाया गया तो दोबारा बीजेपी की पर्ची निकली।


इसके बाद राजनीतिक दलों ने एक बार फिर से मांग की है कि दिल्ली में होने जा रहे एमसीडी चुनाव और गुजरात विधानसभा चुनाव में बैलेट पेपर का इस्तेमाल किया जाए। भींड में हुए डेमो का वीडियो भी सामने आया है। जिसमें मुख्य निर्वाचन अधिकारी सलीना सिंह पत्रकारों से ये कहते हुए सुनी जा रही हैं पर्ची में जो भी निकले पर इस बारे में छापना नहीं, नहीं तो हम आपको थाने में बिठा देंगे।

Loading...