EKTA KAPOOR

सेनिटरी नैपकिन पर 12% टैक्स के सवाल पर एकता कपूर ने दिया ये जवाब

सेनिटरी नैपकिन पर 12% टैक्स के सवाल पर एकता कपूर ने दिया ये जवाब

नई दिल्ली:  1 जुलाई से देशभर में एक नई कर प्रणाली GST को लागू करने की पूरी तैयारी हो चुकी है। चुकी अभी इसे लागू नहीं किया गया है इसलिए कई कारोबारियों में इसे लेकर संशय भी है। लेकिन  सरकार का दावा है कि इसमें कोई दिक्कत नहीं आएगी। और एक बार इसे लागू कर देने के बाद लोगों को इसके फायदे का भी पता चलेगा। लेकिन सेनिटरी नैपकिन को GST के दायरे में रखने से महिलाओं में मायूसी जरुर है।

दरअसल शुरुआत से ही सेनिटरी नैपकीन को GST के दायरे से बहर रखने की मांग की जा रही थी। लेकिन सरकार ने इसे GST के दायरे में रखा है और इसपर 12 फीसदी टैक्स भी लगाया गया है। इसी को लेकर सोशल मीडिया पर #लहूकालगानमतलो नाम से कैंपेन भी चलाया गया था। महिला संगठनों की दलील है कि डब्लूएचओ की रिपोर्ट के मुताबिक भारत में केवल 12 फीसदी महिलाएं सेनिटरी नैपकिन का इस्तेमाल करती हैं। जबकि ज्यादातर महिलाएं अभी भी कपड़ा या फिर पत्ते इत्यादि का इस्तेमाल करती हैं।

लेकिन सरकार पर इसका कोई असर नहीं हुआ। और इसपर GST के तहत 12 फीसदी टैक्स लगा दिया गया। अपनी फिल्म लिप्सटिक अंडर माइ बुरका के प्रमोशन के लिए पहुंची एकता कपूर से पत्रकार की तरफ से सवाल किया गया कि एक तरफ कंडोम को टैक्स फ्री रखा गया है जबकि महिलाओं के लिए जरुरी सैनिटरी नैपकिन पर GST में 12 फीसदी लगाया गया है क्या इसे टैक्स फ्री नहीं होना चाहिए।

पत्रकार के इस सवाल के जवाब में एकता कपूर ने जवाब देते हुए कहा बिल्कुल इसे टैक्स फ्री होनी चाहिए। एकता कपूर ने आगे कहा महिलाओं की जरुरत की हर सामान टैक्स फ्री होनी चाहिए।

Loading...

Leave a Reply