ED ने लालू के बेटी-दामाद का फार्म हाउस अटैच किया, गिरफ्तारी भी संभव

नई दिल्ली:  आरजेडी सुप्रीमो लालू यादव के दामाद शेलेश और उनकी बेटी मीसा भारती पर संकट गहराने लगा है। प्रवर्तन निदेशालय ने दिल्ली के बिजवासन ने मीसा भारती के फार्म हाउस को अटैच कर दिया है। यानि अब मीसा भारती या उनके पति शैलेश इस फार्म हाउस का किसी भी तरह से इस्तेमाल नहीं कर सकेंगी। मीसा भारती का ये फार्म हाउस दिल्ली में पालम के बिजवासन में है। इस फार्म हाउस के बारे में बताया गया था कि उसे 1 करोड़ 48 लाख में खरीदा गया था। जिनमें से 1 करोड़ 20 लाख रुपये तीन शैल कंपनियों की जरिये आए थे।

प्रवर्तन निदेशालय इस मामले में अब दोनों मीसा भारती और उनके पति शैलेश से पूछताछ करेगी। इस बात की भी संभावना जताई जा रही है कि इस मामले में दोनों की गिरफ्तारी भी हो सकती है। प्रवर्तन निदेशालय ने इस मामले में 22 से ज्यादा लोगों को अबतक गिरफ्तार किया है। इस फार्म हाउस को खरीदने के लिए शैलेश और ने जिन शैल कंपनियों से पैसे लिये उसमें काफी चतुराई से काम लिया गया।

शैलेश और मीसा की कंपनी मिशेल में शेयरों की खरीद और फरोख्त के जरिये पैसे जुटाए गए। फर्जी कंपनियों के शेयर पहले 100 रुपये में खरीदे और फिर उन्हीं शैल कंपनियों  के शेयर को 1200 रुपये प्रति शेयर के हिसाब से बेच दिया गया। इस फार्म हाउस को 2008 में खरीदा गया था। उस वक्त लालू यादव यूपीए सरकार में रेल मंत्री थे। जिन शैल कंपियों के जरिये 1 करोड़ 20 लाख रुपये शैलेश और मीसा की कंपनी में आए वो एस के जैन और वी के जैन की थी। प्रवर्तन निदेशालय ने इन दोनों को भी गिरफ्तार कर लिया है। जैन की शैल कंपनी और शैलेश-मीसा की मिशेल कंपनी के बीच पैसों का लेनदेन करवाने वाले सीए राजेश अग्रवाल को भी प्रवर्तन निदेशालय गिरफ्तार कर चुका है।

बिजवास के जिस फार्म हाउस को 1 करोड़ 48 लाख का बताया जा रहा है वो इतना बड़ा है कि अनुमान लगाया जा रहा है उसकी कीमत तकरीबन 30-35 करोड़ रही होगी। जबकि मीसा भारती ने उस फार्म हाउस को केवल 1 करोड़ 48 लाख रुपये में खरीदने की बात कही थी।

Loading...

Leave a Reply