DONALD TRUMP

राष्ट्रपति ट्रंप ने कर दिया ऐसा काम कि व्हाइट हाउस की 20 साल पुरानी परंपरा टूट गई

राष्ट्रपति ट्रंप ने कर दिया ऐसा काम कि व्हाइट हाउस की 20 साल पुरानी परंपरा टूट गई

नई दिल्ली:  रमाजन के मौके पर अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप ने एक बड़ा फैसला किया है। ट्रंप ने व्हाइट हाउस में रमजान पर दी जाने वाली इफतार पार्टी बंद कर दी है। ट्रंप के इस फैसले को मुसलमानों के लिए बड़ा झटका माना जा रहा है। व्हाइट हाउस में पिछले 20 सालों से इफ्तार पार्टी देने की परंपरा थी। जिसकी शुरुआत पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति बिल क्लिंटन की पत्नी हिलरी क्लिंटन ने 1996 में शुरु की थी।

हलांकि रमजान का महीना जब शुरु हुआ था तब डॉनल्ड ट्रंप और उनकी पत्नी मेलेनिया ट्रंप ने मुसलमानों को शुभकामना दी थी। इसके अलावे डॉनल्ड और मेलेनिया ट्रंप ने ईद उल फितर की भी शुभकामना दी है। 1996 में बिल क्लिंटन ने मुसलमानों के साथ आपसी सौहार्द के लिए व्हाइट हाउस में इफ्तार पार्टी की शुरुआत की थी। बाद में जॉर्ज बुश और बराक ओबामा ने भी जारी रखा था।

अमेरिका में जब 9/11 हुआ था उसके बाद भी तत्कालीन अमेरिकी राष्ट्रपति जॉर्ज बुश ने इसे जारी रखा था। उन्होंने कहा था कि हमारी लड़ाई आतंकवाद के खिलाफ है ना कि इस्लाम के खिलाफ। ट्रंप की तरफ से इफ्तार पार्टी बंद करने के फैसले पर मुसलमानों के प्रति उनका अलग नजरिया भी बताया जा रहा है।

ट्रंप ने अपने चुनाव प्रचार के दौरान भी कई मुस्लिम विरोधी बयान दिये थे। जिसके बाद कई लोगों ने इसकी आलोचना भी की थी। इसके बाद जब ट्रंप अमेरिका का राष्ट्रपति चुने गए तो उन्होंने 7 मुस्लिम देशों के नागरिकों पर अमेरिका आने पर प्रतिबंध लगा दिया था। हलांकि बाद में इसमें ढील दी गई। उस वक्त ट्रंप प्रशासन ने मस्जिदों की निगरानी की बात भी कही थी। इसके उलट डॉनल्ड ट्रंप ने राष्ट्रपति बनने के बाद अपने पहले विदेश दौरे की शुरुआत मुस्लिम देश सऊदी अरब से ही की थी।

Loading...

Leave a Reply