Devendra-Fadnavis-chief-minister-maharashtra

BMC चुनाव में बीजेपी का शानदार प्रदर्शन, शिवसेना सबसे बड़ी पार्टी लेकिन बहुमत से दूर

BMC चुनाव में बीजेपी का शानदार प्रदर्शन, शिवसेना सबसे बड़ी पार्टी लेकिन बहुमत से दूर




नई दिल्ली: BMC चुनाव में हालात कुछ इस कदर बन चुके हैं कि बगैर दूसरे का समर्थन लिये कोई भी पार्टी निगम की कुर्सी पर काबिज नहीं हो सकती है। BMC चुनाव में शिवसेना सबसे बड़ी पार्टी बनी है। उसे 84 सीटों पर जीत हासिल हुई। जबकि बीजेपी ने 82 सीटों पर जीत हासिल की। लेकिन इनदोनों ही पार्टियों के पास बहुमत नहीं है।

227 सीटों वाली BMC में निगम की कुर्सी पर काबिज होने के लिए 114 का जादुई आंकड़ा चाहिए। लेकिन वो आंकड़ा बगैर दूसरी पार्टी से हाथ मिलाए हासिल नहीं किया जा सकता है। BMC चुनाव में शिवसेना 84, बीजेपी 82, कांग्रेस 31, एमएनएस 7, एनसीपी 9 और अन्य के खाते में 14 सीटें आई हैं।

ये भी पढ़े : चुनाव जीतने के लिए बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ‘कसाब’ को यूपी लेकर आए!

इस नतीजे के बाद अगर शिवसेना बीजेपी के साथ नहीं मिलना चाहती है तो उसे कांग्रेस से हाथ मिलाना होगा। और अगर बीजेपी बिना शिवसेना के निगम में काबिज होना चाहाती है तो उसे भी कांग्रेस से ही हाथ मिलाना होगा। क्योंकि बगैर कांग्रेस से हाथ मिलाए कोई भी निगम की कुर्सी पर कब्जा नहीं जमा सकता। एक और विकल्प है कि शिवसेना और बीजेपी अपने मतभेद को भुलाकर फिर से एक दूसरे के गले मिल जाएं।

BMC चुनाव में बीजेपी की ये जीत काफी बड़ी है। पिछले चुनाव में बीजेपी को केवल 31 सीटें मिली थी। लेकिन इसबार पार्टी ने दोगुने से भी ज्यादा सीट जीतने में कामयाबी पाई है। बीजेपी की इस बड़ी जीत का श्रेय महाराष्ट्र के सीएम देवेंद्र फडनवीस को दिया जा रहा है। क्योंकि उन्होंने खुद इस चुनाव की कमान संभालने के साथ साथ ताबड़तोड़ प्रचार भी किया था। फडनवीस ने यहां तक कह दिया था कि अगर नतीजे पक्ष में नहीं आए तो इसके लिए वो जिम्मेदार होंगे।

Loading...

Leave a Reply