digital locker available for govt use

मोदी के नोटबंदी की निंदा करनेवालों को करारा जवाब, विकास दर पर नहीं हुआ कोई असर

मोदी के नोटबंदी की निंदा करनेवालों को करारा जवाब, विकास दर पर नहीं हुआ कोई असर




नई दिल्ली: नोटबंदी को देश की आर्थिक तरक्की के लिए राहु बताने वालों को 2016-17 की तीसरी तिमाही के नतीजे ने करारा जवाब दिया है। तीसरी तिमाही के नतीजे से साफ हो गया है कि नोटबंदी का देश के विकास दर पर कोई असर नहीं पड़ा है। रिपोर्ट के मुताबिक तीसरी तिमाही में देश का जीडीपी 7.1 फीसदी रहा।

यह आंकड़ा अक्टूबर से दिसंबर 2016 तक का है। यानि उस दौरान का जब पीएम मोदी ने नोटबंदी का एलान किया था। प्रधानमंत्री ने 8 नवंबर को नोटबंदी का एलान किया था। जिसके बाद से कहा जा रहा था कि नकदी की कमी का असर देश के विकास दर पर पड़ेगा।

सीएसओ की तरफ से जारी आंकड़ों के मुताबिक तीसरी तिमाही में जीडीपी 7.1 फीसदी की दर से बढ़ी। जबकि इसके 6.1 रहने का अनुमान लगाया गया था। मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर में 8.3 फीसदी की दर से बढ़ा जबकि अनुमान 7.1 लगाया गया था। जीडीपी के आंकड़े जारी करने से पहले चुनाव आयोग से इसकी इजाजत ली गई थी। आयोग ने कुछ शर्तों के साथ इसे जारी करने की मंजूरी दी थी।

Loading...

Leave a Reply