दिल्ली ट्रैफिक पुलिस के इस जवान को देखकर आप भी करेंगे ‘सलाम’

नई दिल्ली: पुलिस को शक की निगाह से देखना कोई नई बात नहीं है। इसके पीछे वजह भी है। यहां उस वजह की चर्चा हम नहीं करेंगे। क्योंकि यहां पुलिस के जिस रुप की बात की जा रही है उसे देखकर और जानकर आपका सिर खुद ब खुद उनके सम्मान में झुक जाएगा। NTI भी इनके इस कर्तव्य निष्ठा को सलाम करता है।
दिल्ली ट्रैफिक पुलिस के जवान से जुड़ा वीडियो सोशल मीडिया में तेजी से वायरल हो रहा है। दिल्ली में ड्यूटी निभाते हुए उनका ये वीडियो फेसबुक यूजर मनकान बम्मी ने अपलोड किया है। बम्मी ने ये विडियो 7 अगस्त को दोपहर 12 बजकर 34 मिनट पर अपलोड किया है। तब से लेकर इस खबर को लिखे जाने तक इस वीडियो को 29 हजार से ज्यादा लोग देख चुके हैं। जबकि इसे 10 हजार से ज्यादा लोगों ने शेयर किया था। इस वीडियो को अपलोड करने के साथ ही इस वीडियो में दिख रहे ट्रैफिक पुलिस के कर्तव्यनिष्ठा की पूरी कहानी भी बताई गई है।

बम्मी ने लिखा है कि मैं रेडिसन, पश्चिम विहार के गोल चक्कर से गुजर रहा था। उस वक्त तेज बारिश हो रही थी। उस मुसलाधार बारिश में उनकी नजर बाहर अपनी ड्यूटी कर रहे एक ट्रैफिक पुलिस पर पड़ी। पुलिस का वो जवान पूरी तरह से भींग चुका था। वो जल्दी जल्दी गाड़ियों को वहां से निकाल रहा था ताकि ट्रैफिक की समस्या खड़ी न हो जाए। तभी बम्मी के ठीक आगे वाली गाड़ी खराब हो गई। बम्मी ने आगे लिखा है उसके बाद ट्रैफिक पुलिस का वो जवान तुरंत उस गाड़ी को धक्का देकर किनारे की तरफ ले जाने लगा। ताकि गाड़ी के अंदर बैठे लोग भींगने से बच सकें साथ ही वहां पर ट्रैफिक जाम की समस्या न हो।


बम्मी ने लिखा है हम बड़ी आसानी से पुलिस की निंदा कर देते हैं लेकिन कई मौकों पर पुलिस ने ऐसे काम भी किये हैं जिसके लिए वो प्रशंसा के पात्र भी होते हैं। इसलिए उनकी प्रशंसा भी करनी चाहिए। इस वीडियो को बनाने वाले बम्मी को इस बात का अफसोस है कि वो पानी में भींगकर अपनी ड्यूटी निभा रहे उस ट्रैफिक पुलिस का नाम नहीं पूछ सके। बम्मी ने उस गोल चौराहे को पार करने के बाद एक दूसरे ट्रैफिक पुलिस से पानी में भींगे उस ट्रैफिक पुलिस का नाम पूछा। लेकिन उन्होंने बताने से इनकार कर दिया। शायद उन्हें ये भय सता रहा हो कि उनके खिलाफ कोई शिकायत न कर दे।


बम्मी ने अपने फेसबुक पोस्ट में पानी में भींगकर ड्यूटी निभा रहे उस ट्रैफिक पुलिस के जज्बे को सलाम किया है। ये वीडियो एक तरफ तो पुलिस के प्रति हमारे मन में सम्मान भर देती है। दूसरी तरफ इस वीडियो को देखकर सिस्टम की लाचारी भी सामने आ जाती है। जहां पानी में ड्यूटी निभा रहे ट्रैफिक पुलिस के जवान को एक रेन कोट तक मुहैया नहीं कराई गई है। इस बात पर भी गौर करने की जरुरत है। अगर पुलिस वाले ने अपनी फर्ज की खातिर बारिश की फिक्र नहीं की तो सरकार का भी ये फर्ज है कि वो भी ऐसा इंतजाम करें कि इन्हें ऐसे हालात में ड्यूटी ना करनी पड़े। क्या सरकार इतनी लाचार है कि वो इस हालात को बदल नहीं सकती।

Loading...